दैनिक भास्कर हिंदी: मोतिहारी रैली: PM मोदी बोले- नीतीश कुमार की NDA सरकार ही लोगों को दे सकती है रोजगार 

November 1st, 2020

डिजिटल डेस्क, चंपारण। बिहार में दूसरे चरण के 94 विधानसभा सीटों पर आज शाम पांच बजे प्रचार थम जाएगा। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छपरा में रैली के लिए पहुंचे। जहां उन्होंने पहली रैली छपरा में शुरू की, इसके बाद उन्होंने दूसरी रैली समस्तीपुर में विपक्ष पर जमकर हमला बोला। अब वे अपनी तीसरी रैली मोतिहारी में आमजनों को संबोधित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने मोतिहारी में कहा कि जंगलराज वालों को चिंता है कि लालटेन कैसे जले।

उन्होंने कहा कि, हमारा प्रयास है कि हर घर में एलईडी कैसे पहुंचे। एनडीए का प्रयास है कि हम बिहार के अपने गरीब भाइयों बहनों को ज्यादा से ज्यादा पक्के घर कैसे दे सकें। जंगलराज वालों को चिंता है कि अपनी तिजोरी कैसे भरें।

पीएम मोदी ने रैली में कहा, कि मोतिहारी में आना तो बहुत बार हुआ है। लेकिन अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू होने के बाद आज पहली बार आपके बीच आया हूं। उन्होंने कहा कि, सदियों के लंबे इंतजार के बाद, तप और तपस्या के लंबे दौर के बाद जो ये अवसर आया है, उसके लिए रामायण की रचनास्थली से जुड़े आप सभी साथियों को मैं बधाई देता हूं।

उन्होंने कहा कि, जब कोरोना का संकट देश में आया तो सबसे पहले गांव, गरीब और किसान के बारे में ही सोचा गया। ये संक्रमण गांव तक ना फैले, इसके लिए सही समय पर लॉकडाउन किया गया। गरीब परिवारों को भूखा ना सोना पड़े इसके लिए दीवाली और छठ पूजा तक मुफ्त राशन की व्यवस्था की गई।

समस्तीपुर रैली: पीएम मोदी ने विपक्ष पर किया हमला

बिहार के जो श्रमिक परिवार दूसरे राज्यों से लौटे हैं, उनके राशन से लेकर रोजगार तक के लिए इस दौरान गरीब कल्याण रोजगार अभियान चलाया गया है। कटाई और खरीद के साथ साथ  लॉकडाउन के दौरान बुवाई के लिए भी किसानों को हर जरूरी सुविधा उपलब्ध कराई गई।

पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के युवाओं को बिहार में ही अच्छा और सम्मानजनक रोजगार मिले ये बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि, सवाल ये है कि ये कौन दिला सकता है? वो लोग जिन्होंने बिहार अंधेरे और अपराध की पहचान दी! वो लोग जिनके लिए रोजगार देना करोड़ों की कमाई का माध्यम है!

जंगलराज की हालत तो ये थी कि जो उद्योग, जो चीनी मिले, दशकों से चंपारण और बिहार का अहम हिस्सा रही हैं, वो भी बंद हो गईं। अब तो इस चुनाव मे जंगलराज वालों के साथ नक्सलवाद के समर्थक, देश के टुकड़े-टुकड़े करने की चाहत रखने वालो के समर्थक भी शामिल हो गए हैं।

पीएम मोदी बोले, मां तुम छठ पूजा की तैयारी करो, दिल्ली में तुम्हारा बेटा बैठा है

पीएम ने कहा कि, एनडीए का प्रयास है कि हम बिहार के अपने गरीब भाइयों बहनों को ज्यादा से ज्यादा पक्के घर कैसे दे सकें। जंगलराज वालों को चिंता है कि अपनी तिजोरी कैसे भरें। हमारी प्राथमिकता है कि बिहार के किसानों को, श्रमिकों को, बुजुर्गों को पैसे सीधे उनके बैंक खाते में डाल सकें।

उन्होंने कहा कि, बिहार की महिलाएं, माताएं-बहनें खुले में शौच में जाने के लिए मजबूर थीं, उनकी सुरक्षा पर खतरा रहता था, लेकिन जंगलराज वाले, जंगल जैसे हालात बनाए रखना चाहते थे। एनडीए की सरकार ने बिहार की माताओं-बहनों के लिए लाखों शौचालय बनाकर उनकी परेशानी कम करने का प्रयास किया है।