comScore

MP: कैबिनेट मंत्री बोले- मैं महाराज सिंधिया का चमचा हूं और अंतिम सांस तक रहूंगा

MP: कैबिनेट मंत्री बोले- मैं महाराज सिंधिया का चमचा हूं और अंतिम सांस तक रहूंगा

हाईलाइट

  • भाजपा नेता ने लेबर मिनिस्टर सिसोदिया को कहा था सिंधिया का चमचा
  • महाराज जैसे बड़े कद के व्यक्ति का चमचा होना सौभाग्यशाली: सिसोदिया
  • राजनीति छोड़ दूंगा, लेकिन महाराज सिंधिया को नहीं : सिसोदिया

डिजिटल डेस्क, अशोकनगर। मध्य प्रदेश के कैबिनेट मिनिस्टर महेंद्र सिंह सिसोदिया ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए खुद को पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का चमचा बताया। दरअसल गुना के भाजपा सांसद केपी सिंह ने उन्हें सिंधिया का चमचा कहा था, उन्होंने इसी का पलटवार किया। सिसोदिया ने कहा कि मैं महाराज सिंधिया का चमचा हूं तो हूं और अंतिम सांस तक रहूंगा। उन्होंने कहा कि महाराज सिंधिया ने मेरा जीवन संवारा और मुझे उनका चमचा होने पर गर्व है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब केपी सिंह द्वारा उन्हें सिंधिया का गुलाम कहने के बारे में सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि 'केपी सिंह ने मुझे गुलाम नहीं चमचा कहा था। मैं महाराज सिंधिया का चमचा हूं तो इसमें क्या दिक्कत है? कल तक केपी यादव महाराज के चमचा नहीं थे क्या? उनकी गाड़ी के पीछे नहीं दौड़ते थे क्या? मुझे महाराज ने टिकट दिया। मुझे कैबिनेट मंत्री बनाया और मैं सौभाग्यशाली हूं कि मैं इतने बड़े कद के व्यक्ति का चमचा हूं। मैं तो चाहूंगा कि आप मुझे कढ़ाई भी कह दो।' इसके आगे उन्होंने कहा कि 'मैं राजनीति छोड़ दूंगा, लेकिन महाराज सिंधिया को नहीं छोड़ूंगा।'

अब सांसद के घर नहीं जाएंगे सिंधिया
ज्योतिरादित्य सिंधिया 17 जनवरी को केपी यादव के पिता के निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त करने उनके घर जाने वाले थे, लेकिन इसे लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की एक जनआक्रोश रैली में भाजपा सांसद डॉ. यादव ने कई सवाल खड़े किए। इसके बाद सिंधिया का यह कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया।

कमेंट करें
2iqht