दैनिक भास्कर हिंदी: पंचायत समन्वयक पांच हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, मजदूर की बेटी का हक दिलाने मांगे थे रूपये

July 24th, 2019

डिजिटल डेस्क,मंडला। मजदूर को बेटी के शादी करने पर शासन से मिलने वाली 51 हजार रूपए की सहायता राशि स्वीकृत करने के एवज में पांच हजार रूपए की रिश्वत लेते पंचायत समन्वयक महेश दिवाकर को लोकायुक्त पुलिस जबलपुर की टीम ने जनपद पंचायत मंडला से गिरफ्तार किया है। दोपहर के समय हुई कार्रवाई से जनपद में हड़कंप मच गया। लोकायुक्त ने आरोपी पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। महेश दिवाकर ने  मजदूर को परेशान कर रखा था। आवेदन स्वीकृति के लिए दस हजार रूपए की मांग की जा रही थी।

आवेदन स्वीकृति के लिए दस हजार रूपए की मांग की 

बताया गया है कि भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीकृत निर्माण श्रमिक को बेटी की शादी पर 51 हजार रुपए सहायता दी जाती है। जनपद मंडला के गांव बहंगा निवासी मचल सिंह कुशराम ने इसी योजना के तहत बेटी संध्या की शादी 7 जून 2019 को अनीस उइके निवासी सिमारिया के साथ की और एक एक आवेदन जनपद पंचायत में लगाया। जिसका सत्यापन किए जाने के बाद इसकी स्वीकृति दी जाना था। जनपद मंडला में पंचायत समन्वयक पीसीओ महेश दिवाकर सत्यापन व स्वीकृति के लिए कई दिनो से मजदूर को परेशान कर रखा था। आवेदन स्वीकृति के लिए दस हजार रूपए की मांग की जा रही थी। इससे परेशान हो कर मचल सिंह के बेटे लवकुश कुशराम ने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत कर दी।

कर्मचारियो अधिकारियों में हड़कंप

पंचायत समन्वयक को रंगेहाथ पकड़ने के लिए लोकायुक्त पुलिस ने केमीकलयुक्त पांच हजार के नोट लवकुश को दिए। दोपहर के समय जैसे ही पीसीओ महेश दिवाकर ने रिश्वत के नोट रखे पुलिस ने रंगे हाथ उसे दबोच लिया। कार्रवाई के बाद जनपद पंचायत में कर्मचारियो अधिकारियों में हडकंप मच गया। टीम में उपपुलिस अधीक्षक जेपी वर्मा, निरीक्षक ऑस्कर किंडो,आरक्षक अतुल श्रीवास्तव,आरक्षक जावेद खान, आरक्षक शरद पांडे व राकेश विश्वकर्मा शमिल रहे।

खबरें और भी हैं...