दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर : पुलिस ने छापा मारकर सेक्स रैकेट का किया पर्दाफाश, 2 युवतियों को कराया मुक्त

April 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मोतीबाग रेलवे क्रॉसिंग के पास एक किराए के फ्लैट में चल रहे सेक्स रैकेट पर अपराध शाखा पुलिस विभाग के सामाजिक सुरक्षा दस्ते ने छापा मारकर अड्डे से दो बांग्लादेशी और एक रायपुर (छत्तीसगढ़) की युवती को मुक्त कराया। सेक्स रैकेट का ब्रोकर मोहम्मद सरफराज मेमन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ने इन युवतियों से वाट्सएप के माध्यम से दोस्ती की थी। उसके बाद उन्हें नागपुर में नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया और अधिक कमाई करने का लालच  देकर देह व्यापार में धकेल दिया। देह व्यवसाय के लिए फ्लैट किराए पर लिया गया था। नागपुर में देह व्यापार अड्डों पर अंतरराज्यीय व विदेशी युवतियों की मांग काफी बढ़ गई है। इसके चलते  हर महीने करीब 8 से 10 विदेशी युवतियां देह व्यापार के लिए नागपुर बुलाई जाती हैं। 

20 दिन पहले बुलाई गई थीं
सूत्रों के अनुसार पांचपावली थानांतर्गत मोतीबाग रेलवे क्रॉसिंग के पास  राय सोसाइटी में फ्लैट क्र. 110 में देह व्यापार अड्डा चल रहा है। इसे मोहम्मद सरफराज मेमन चलाता है। उसके अड्डे पर अंतरराज्यीय और विदेशी युवतियां मिलती हैं। उसने करीब 20 दिन पहले ही दो बांग्लादेशी और एक रायपुर की युवती को देह व्यापार के लिए बुलाया था। आरोप है कि उन्हें नौकरी दिलाने के बहाने नागपुर में बुलाया जाता था। इस अड्डे के बारे में सामाजिक सुरक्षा दस्ते के पुलिस निरीक्षक उमेश बेसरकर को गुप्त जानकारी मिली थी। उसके बाद बेसरकर ने सामाजिक सुरक्षा दस्ते के साथ छापा मारा। अड्डे पर 20 से  32 वर्ष की तीन युवतियां मिलीं। इन तीनों युवतियों को महिला सुधारगृह भेज दिया गया है। सरफराज मेमन कोराडी नाका, ओमनगर नागपुर निवासी के खिलाफ पांचपावली थाने में धारा 370, 3, 4, 5, 6, 7 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी का कई युवतियों सेे संपर्क
सूत्रों के अनुसार सरफराज का कई युवतियों से संपर्क हैं। वह वाट्सएप के माध्यम से उनके संपर्क में बना रहता है। वह काफी लंबे समय से देह व्यापार अड्डा चलाते आ रहा है। इसके संपर्क में गुजरात, मुंबई, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, बिहार, चेन्नई, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और राजस्थान आदि राज्यों की युवतियां व विदेशों में कई युवतियों से संपर्क हैं। उसके विदेश में भी कई दलालों से संपर्क हैं, जो जरूरत पड़ने पर विदेशी युवतियाें को उसके पास भेजते हैं।

इन्होंने की कार्रवाई
मामले की जांच बेसरकर कर रहे हैं। अपराध शाखा पुलिस विभाग के उपायुक्त निलेश भरणे, सहायक पुलिस आयुक्त सुधीर नंदनवार के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक उमेश बेसरकर, सहायक पुलिस  निरीक्षक अनुपमा जगताप,  उपनिरीक्षक स्मिता सोनावणे, प्रीति कुलमेथे, हवलदार मुकुंदा गारमोडे, संजय पांडे आदि ने कार्रवाई में सहयोग किया। 

पांच हजार रुपए में सौदा
पुलिस ने आरोपी के अड्डे पर छापा मारने से पहले एक पंटर (नकली ग्राहक) भेजा। मोहम्मद सरफराज ने पांच हजार रुपए में सौदा तय किया। पंटर के सामने दो  बांगलादेशी और एक रायपुर की युवती को दिखाया गया। पंटर ने एक बांगलादेशी युवती को पसंद किया। उसके बाद पंटर को युवती के साथ कमरे में भेज दिया गया। पंटर ने मौका पाकर पुलिस को संकेत दे दिया। उसके बाद कार्रवाई की गई।

खबरें और भी हैं...