comScore

रायपुर : श्याम घुनघुट्टा मध्यम परियोजना 23.58 करोड़ रूपए की लागत से होगा नहर लाइनिंग एवं रिमोडलिंग कार्य - मंत्रीद्वय टी.एस. सिंहदेव और डॉ. टेकाम ने किया भूमिपूजन

October 14th, 2020 18:12 IST
रायपुर : श्याम घुनघुट्टा मध्यम परियोजना 23.58 करोड़ रूपए की लागत से होगा नहर लाइनिंग एवं रिमोडलिंग कार्य - मंत्रीद्वय टी.एस. सिंहदेव और डॉ. टेकाम ने किया भूमिपूजन

डिजिटल डेस्क, रायपुर।, 13 अक्टूबर 2020 छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस.सिंहदेव और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने आज अम्बिकापुर जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत फतेहपुर में 23 करोड़ 58 लाख रूपए की लागत से निर्माण किये जाने वाले श्याम घुनघुट्टा मध्यम परियोजना के दायीं एवं बायीं तट नहर का लाईनिंग एवं रिमोडलिंग कार्य का भूमिपूजन किया। मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि श्याम घुनघुट्टा परियोजना से नहर का पानी फतेहपुर तक पहुंचाने के लिए सब ने बहुत मेहनत की है। निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण होना चाहिए। नहर का निर्माण कार्य शुरू होने पर हम सब पैदल यात्रा कर नहर का निर्माण कार्य के गुणवत्ता का अवलोकन करेंगे। इस नहर के बन जाने से अंतिम छोर के गांव के खेतों में पानी की पहुंच होगी। किसानोें के खेतों में पानी पहुंचेगी तो फसल लहलहाएंगे और फसल का दोहन कर किसान आर्थिक रूप से सशक्त बनेंगे। श्री सिंहदेव ने कहा कि हमारी सरकार जनता की भलाई के लिए योजनाओं को पहुंचाने की कोशिश कर रही है। गोठानों में गोबर की खरीदी की जा रही है। उन्होंने कहा कि गोठानों को मल्टीएक्टिविटी सेन्टर के रूप में अपनाते हुए यहां बटेर पालन, मुर्गीपालन, बकरीपालन, मछली जैसे गतिविधियां शुरू करें ताकि आजीविका का बेहतर साधन प्राप्त हो। मंत्री श्री सिंहदेव ने बताया कि अम्बिकापुर जनपद में स्वच्छ भारत मिशन के तहत 15 सामुदायिक शौचालय हेतु 52 लाख 50 हजार, तालाबों में घाट निर्माण हेतु 5 करोड़, गोबरधन परियोजना अंतर्गत 10 बायो गैस ईकाई निर्माण हेतु 50 लाख रूपए, 282 दिव्यांग शौचालय हेतु 81 लाख 78 हजार तथा तृतीय लिंग एवं दिव्यांग हेतु 7 करोड 50 लाख रूपए की लागत से 8 सामुदायिक शौचालय निर्माण के कार्य स्वीकृत किए गए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि श्मया घुनघुट्टा नहर का पानी अंतिम गांव तक पहुंचेगा और सरगुजा और सूरजपुर जिले के किसानों को फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि किसानों को सबसे ज्यादा सिंचाई के लिए पानी के लिए जरूरत होती है। इस नहर के बन जाने से किसानों के खेत तक पानी पहुंचेगा और किसान अच्छी फसल पैदा कर समृद्ध बनेंगे। इस अवसर पर सिंचाई मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने भी मोबाईल के माध्यम से जुडकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि श्यामा घुनघुट्टा परियोजना से अब पानी अंतिम छोर तक पहुंच सकेगी। हमारी सरकार छत्तीसगढ़ में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार करने के लिए काम कर है। मंत्रीद्वय ने इस अवसर पर फतेहपुर एवं सुखरी के चार दिव्यांग व्यक्तियो को मोटराईज्ड ट्राई साईकल, ग्राम सुखरी के जागृति महिला स्व सहायता समूह को 3 लाख रूपए तथा सोनपुर खुर्द की जय मॉ लक्ष्मी महिला स्व सहायता समूह को 2 लाख रूपए के ऋण राशि का चेक तथा 50 किसानों को बी-1 एवं खसरे का दस्तावेज वितरित किया गया। कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ राज्य औषधि पादप बोर्ड के अध्यक्ष श्री बालकृष्ण पाठक, श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्री शफी अहमद, बीस सूत्रीय कार्यान्वयन समिति के उपाध्यक्ष श्री अजय अग्रवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मधु सिंह, उपाध्यक्ष श्री राकेश गुप्ता तथा नगर निगम मेयर डॉ. अजय तिर्की ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती राधारवि पार्षद श्री द्वतेन्द्र मिश्रा, फतेहपुर सरपंच श्री सत्येन्द्र सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं कर्मचारी तथा ग्रामीण जन उपस्थित थे।

कमेंट करें
gbZRG