दैनिक भास्कर हिंदी: बच्चा चोर गिरोह की अफवाह : संदिग्ध हालत में पकड़े 8 लोगों को जेल भेजा 

July 30th, 2019

डिजिटल डेस्क, टीकमगढ़। शहर सहित जिले में बच्चा चोर गिरोह की अफवाहों के बीच सोमवार को कुछ ऐसे संदिग्धों को पकड़ा गया, जिन्हें स्थानीय लोगों ने पकड़कर बच्चा चुराने का संदेह जताया। दिनभर चले घटनाक्रम में संदिग्धों को पुलिस के सुपुर्द करने के बाद पूछताछ और फिर जेल भेजने की कार्रवाई से नगर में सनसनी फैल गई। सोशल मीडिया पर दिनभर यह मुद्दा गरमाया रहा। शाम को एसपी ने लोगों को सलाह देते हुए कहा कि यह कोरी अफवाह है। इस शक के आधार पर किसी के साथ मारपीट जैसी घटना न की जाए। जहां भी संदेह लगे तो पहले पुलिस को इसकी सूचना दें। 

सोशल मीडिया से फैल रही अफवाह

पिछले एक सप्ताह से सोशल मीडिया पर बच्चा चोर गिरोह घूमने की चर्चाएं चल रही हैं। ऐसे मैसेज से शहरी और ग्रामीण और क्षेत्रों के लोग सकते में हैं। वे स्कूल जाने वाले छोटे-छोटे बच्चों को लेकर परेशान दिखाई दे रहे हैं। हालांकि जिले में अभी कोई ऐसा मामला नहीं आया है, जिससे यह कहा जाए कि फेरी लगाकर सामान बेचने वाले या भिक्षा मांगने वाले इसमें शामिल हैं। इन्हीं चर्चाओं के बीच सोमवार को शहर के मोटे का मोहल्ला में स्कूल के पास दो महिलाओं को संदिग्ध हालत में घूमते हुए देखा गया। आंगनबाड़ी केंद्र से लौट रहीं महिलाओं ने जब उनसे पूछताछ की तो एक महिला भाग निकली। इस बीच मोहल्ले वालों ने दूसरी महिला को पकड़ लिया। सभी लोग बच्चा चोर गिरोह का आरोप लगाने लगे। इस दौरान एक महिला ने उसे थप्पड़ भी मार दिया। देखते ही देखते लोगों का मजमा जुटना शुरू हुआ और फिर पुलिस को सूचना दी गई। पकड़ी गई महिला खुद को निर्दोष बताते हुए छोडऩे की गुहार लगाती रही। मौके पर पुलिस ने भीड़ को हटाकर महिला को अभिरक्षा में लेकर कोतवाली ले गई। इसी बीच अचानक पुरानी टेहरी मोहल्ले में भी स्थानीय लोगों ने चार ऐसे युवकों को संदिग्ध होने की शंका पर पकड़ लिया। उन्हें एक स्थान पर बैठा लिया। मोहल्ले के लोग उनसे पूछताछ करने लगे।जागरूक लोगों ने समझाइश देकर पुलिस को सूचित किया। जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती तब तक बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम इन युवकों को देखने उमड़ पड़ा। देखते ही देखते लोगों ने मोबाइल से वीडियो और फोटो निकालकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलते ही पूरे शहर में चर्चाओं का दौर गर्म हो गया। पुलिस ने चारों युवकों को अभिरक्षा में लिया और उन्हें थाने लाकर पूछताछ की गई। 

बंडा और इलाहाबाद का निवासी बताया 

पूछताछ के दौरान पुरानी टेहरी से पकड़े गए चारों युवकों ने सागर जिले के बंडा थाना का निवासी बताया। वहीं मोटे के मोहल्ला में जो महिला पकड़ी गई, उसने इलाहाबाद यूपी के शंकरगढ़ की होना बताया। थाना प्रभारी एमके जगैत ने बताया कि यह सभी बाहर से आकर शहर में भीख मांग रहे थे। पुलिस ने कुल 8 ऐसे लोगों से पूछताछ कर 151 की कार्रवाई की है। कोतवाली पुलिस के अनुसार जिन पर 151 की कार्रवाई की गई है। उनमें समद खां, क्रपू खां, जुबैर खां,  शरीफ खां, कुलवरी खां, नन्हे खां, शब्बीर खां सभी निवासी बंडा थाना क्षेत्र के निवासी बताए गए हैं। 
 

खबरें और भी हैं...