शैक्षणिक गुणवत्ता सुधारने स्कूल की होगी मासिक ग्रेडिंग, पोर्टल से होगी मॉनीटरिंग

School grading will soon for improve academic quality
शैक्षणिक गुणवत्ता सुधारने स्कूल की होगी मासिक ग्रेडिंग, पोर्टल से होगी मॉनीटरिंग
शैक्षणिक गुणवत्ता सुधारने स्कूल की होगी मासिक ग्रेडिंग, पोर्टल से होगी मॉनीटरिंग

डिजिटल डेस्क मंडला । हाई व हायर सेकेंडरी स्कूल में शैक्षणिक गुणवत्ता सुधारने की कवायद की जा रही है। स्कूल नियमित अध्ययन और अध्यापन कार्य पर नजर रखे और सुधारात्मक कार्रवाई करें। इसके लिए शाला में होने वाली मासिक गतिविधियों के आधार पर स्कूलों की मासिक ग्रेडिंग की जाएगी। राज्य स्तर पर अकादमिक गतिविधियों की मॉनीटरिंगके लिए पोर्टल तैयार किया गया है। जिसमें प्राचार्य को प्रपत्र में जानकारी अपडेट करनी होगी। इसी के आधार पर स्कूल को ग्रेड दिया जाएगा। अक्टूबर से स्कूल की ग्रेडिंग होगी।
जानकारी के मुताबिक हाई और हायर सेकेंडरी स्कूल में बेहतर परीक्षा परिणाम आएं और विद्यार्थियों की शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार के लिए शिक्षा विभाग ने मासिक टेस्ट की व्यवस्था कर दी है। अब स्कूल को ग्रेडिंग भी दी जाएगी। राज्य स्तर पर बनाए गए पोर्टल में स्कूल प्राचार्य हर माह की पांच तारीख तक अकादमिक गतिविधियों से सबंधित जानकारी प्रपत्र में भरेगें। इसकी मॉनीटरिंग के आधार पर स्कूल को ग्रेड मिलेगा। जिसके बाद स्कूल को चिहिन्त कर सुधारात्मक प्रयास किए जाएगे। स्कूल प्राचार्यो को प्रपत्र भरने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है। पंाच अक्टूबर को पोर्टल मेंं प्राचार्य जानकारी भरेगे। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान से प्राचार्य को यूर्जस आई और पासवर्ड दिया जा चुका है। जिससे प्राचार्य अकादमिक गतिविधियों को पोर्र्टल में अपलोउ कर सके।
ऐसे मिलेगे अंक
स्कूल को मासिक गतिविधियों से प्रपत्र पोर्टल में भरने होगे जिसमें शाला में उपलब्ध संसाधन में 10 अंक, सीखना,सिखाना और उसका आंकलन 10 अंक, विद्यार्थियों की प्रगति, उपलब्धि और विकास 45 अंक, शिक्षकों का कार्य प्रदर्शन और उनका व्यवसायिक उन्ननयन 17 अंक, शाला नेतृत्व और शाला प्रबंधन 5 अंक, समावेश स्वास्थ्य और सुरक्षा 5 अंक, समुदाय की सहभागिता 4 अंक, आवंटन और शाला निधि का उपयोग 4 अंक मिलेगे। शाला के 81 से अधिक अंक पर ए ग्रेड, 66 से 80 अंक में बी ग्रेड, 51 से 65 अंक में सी ग्रेड और 1 से 50 अंक में डी ग्रेड दिया जाएगा। जानकारी अपलोड नहीं करने की स्थिति में डी ग्रे्रड शाला को मिलेगा।
हर आठ स्कूल पर मॉनीटरिंग दल
ग्रेडिंग के लिए स्कूल की मासिक अकादमिक गतिविधियां बेहतर हो। इसके लिए जिला स्तर में दल बनाए गए है। हर आठ स्कूल में एक दल का गठन किया जा रहा है। इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। जिले में कुल 202 हायर सेकेंडरी और हाई स्कूल है जिसमें 82 हायर सेकेंडरी और 120 हाई स्कूल शामिल है। इसके लिए 33 दल बनाए गए है। जहंा स्कूल की दूरी ज्यादा है वहां दल को कम स्कूल दिए गए है। दल स्कूल की अकादमिक गतिविधियों की जानकारी लेते रहेगे और सुधार करने के लिए प्रेरित करेगे। दलो के द्वारा जिला स्तर के अधिकारियों स्कूल की गतिविधियों की जानकारी देनी होगी।
इनका कहना है
शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार के लिए स्कूलो की मासिक अकादमिक गतिविधियों के आधार पर ग्रेडिंग की जाएगी, जिससे चिन्हित कर स्कूलों मे सुधार किया जा सके, राज्य स्तर पर बनाए गए पोर्टल में प्राचार्य को प्रपत्र मे हर माह जानकारी अपडेट करनी होगी।
मुकेश पांडे, एपीसी आरएमएसए, मंडला

Created On :   16 Sep 2017 10:55 AM GMT

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story