मर्डर: कन्नूर में आरएसएस के संदिग्ध कार्यकर्ताओं ने माकपा कार्यकर्ता की हत्या की

February 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, तिरुवनंतपुरम। कन्नूर के थालास्सेरी में सोमवार तड़के 54 वर्षीय माकपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई। ये जानकारी लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट के संयोजक ए विजयराघवन ने दी। दरअसल, पीड़ित हरिदासन पेशे से एक मछुआरा था। कन्नूर लंबे समय से राजनीतिक अपराधों का केंद्र रहा है, खासकर बीजेपी/आरएसएस और सीपीआई (एम) के बीच अक्सर एक-दूसरे से भिड़ते रहते हैं। माकपा के मुताबिक बीते दो सालों में हरिदासन कन्नूर में दसवें शिकार बने हैं।

यह माकपा का गढ़ है और मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और पार्टी के राज्य सचिव कोडियेरी बालकृष्णन का गृह जिला भी है। विजयराघवन ने हत्या को राज्य में शांति भंग करने के लिए आरएसएस/भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा एक सोची समझी चाल करार दिया।

विजयराघवन ने यहां राज्य पार्टी मुख्यालय में मीडिया से कहा, कन्नूर हमारे आगामी पार्टी सम्मेलन का स्थल बनने जा रहा है और हत्या संघ परिवार की ताकतों द्वारा एक सोची समझी चाल है। यह एक चौंकाने वाला और शांतिपूर्ण माहौल को हिला देने वाला है। दोपहर करीब 2 बजे हरिदासन घर लौट रहे थे कि उनके घर के सामने चार बाइक सवारों ने हमला कर दिया।

इसमें बीच-बचाव करने वाला उसका भाई भी घायल हो गया। जयराजन ने कहा, एक बीजेपी पार्षद के सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे ऑडियो क्लिप में उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है कि माकपा कार्यकर्ताओं को सबक सिखाया जाएगा। हालांकि, कन्नूर जिला भाजपा अध्यक्ष हरिदास ने आरोपों को खारिज कर दिया और इसे निराधार करार दिया।

हरिदास ने कहा, माकपा को दोषियों का नाम नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह पुलिस का काम है। मंदिर उत्सव के आयोजन को लेकर क्षेत्र में मुद्दे हैं। भाजपा एक ऐसी पार्टी है जो शांति सुनिश्चित करने के लिए सब कुछ करती है। माकपा ने क्षेत्र में पूर्ण बंद का आह्वान किया है।

आईएएनएस