comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

कचनार गौशाला के उन्‍नयन का कार्य प्राथमिकता से लें- विधायक आवारा मवेशियों को गौशालाओं में भिजवाएं

January 29th, 2021 16:39 IST
कचनार गौशाला के उन्‍नयन का कार्य प्राथमिकता से लें- विधायक आवारा मवेशियों को गौशालाओं में भिजवाएं

डिजिटल डेस्क, अशोकनगर। कचनार गौशाला के संचालन हेतु उन्‍नयन कराये जाने का कार्य प्राथमिकता से लिया जाए। जिससे कचनार की गढ़ी में संचालित होने वाली गौशाला प्रारंभ हो सके। इस आशय के निर्देश अशोकनगर विधायक श्री जजपाल सिंह जज्‍जी ने गुरूवार को कलेक्‍ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला स्‍तरीय गौशाला समन्‍वय समिति तथा पशु रोगी कल्‍याण समिति की बैठक में अधिकारियों को दिए। विधायक श्री जज्‍जी ने कहा कि गौशालाओं को ओर बेहतर बनाने के लिए सभी आवश्‍यक प्रयास किये जाए। जिससे गौशालाओं की आमदानी में बढोत्‍तरी हो सके। साथ ही स्‍थानीय स्‍तर पर समितियों का गठन किया जाए। जिससे गौशालाओं का संचालन ठीक तरीके हो सके। उन्‍होंने गौशालाओं में गोबर गैस प्‍लांट तथा नाडेप बनवाये जाने के निर्देश दिए। कलेक्‍टर श्री अभय वर्मा ने गौशालाओं की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि गौशालाओं में जहां पर विद्युत की व्‍यवस्‍था नही हो पाई है,वह पर सोलर लाईट की व्‍यवस्‍था की जाए। प्राईवेट गौशालाओं में पर्याप्‍त पशुधन हो यह सुनिश्चित किया जाए। उन्‍होंने प्राईवेट गौशालाओं को दिये जाने वाले अनुदान की विस्‍तार से समीक्षा की। उन्‍होंने स्‍व सहायता समूहों के माध्‍यम से संचालित गौशालाओं,चारागाह विकास कार्य,पावर ड्रीपन,चैफ कटर मशीन की स्‍थापना,नेपीयर ग्रास लगाये जाने के संबंध में विस्‍तार से समीक्षा कर आवश्‍यक निर्देश दिए। चक्‍क चिरोली बीएमसी में दूध की क्षमता 02 हजार लीटर किये जाने हेतु सभी आवश्‍यक उपाए किये जाने के निर्देश दिए गए। बैठक में निर्णय लिया गया कि पशुपालन विभाग द्वारा पशुओं के उपचार हेतु लगाये जाने वाले शिविरों में दवा की उपलब्‍धता सुनिश्चित करने हेतु डेढ़ लाख रूपये तक की दवाएं क्रय करने की अनुमति प्रदान की गई। पशु चिकित्‍सालयों की जमीन खसरे में दर्ज किये जाने के संबंध में निर्णय लिया गया। पशु औषधालयों की शुल्‍क दरों का निर्धारण किया गया। बैठक में कुत्‍ता,कुतियों की नसबंदी का लक्ष्‍य शत् प्रतिशत मार्च तक पूर्ण करने का निर्णय लिया गया। बैठक में बताया गया कि वर्ष 2019-20 में जिले में 33 गौशाला निर्माण का लक्ष्‍य प्राप्‍त हुआ था। जिसमें से 32 गौशालाएं पूर्ण होकर संचालित की जा रही है तथा 01 गौशाला प्रगतिरत है। इसी प्रकार वर्ष 2020-21 में 77 गौशाला निर्माण का लक्ष्‍य जिले को प्राप्‍त हुआ है। समस्‍त 77 गौशालाएं प्रगतिरत है। बैठक में वनमण्‍डाधिकारी श्री अंकित पाण्‍डे,सीईओ जिला पंचायत श्री बी.एस.जाटव,उप संचालक पशुपालन श्री आर.के.त्‍यागी,पशु चिकित्‍सक एवं समिति के शासकीय एवं अशासकीय सदस्‍यगण उपस्थित थे।

कमेंट करें
t7plh