comScore

नदी में आई अचानक बाढ़ फंस गए तीन युवक - कर रहे थे मछलियों का शिकार

नदी में आई अचानक बाढ़ फंस गए तीन युवक - कर रहे थे मछलियों का शिकार

घंटो की मशक्कत के सुरक्षित निकाले गए,घुघरी थाना का मामला
डिजिटल डेस्क  मंडला।
घुघरी थाना क्षेत्र में बुढऩेर नदी पर मत्स्याखेट कर रहे तीन युवक अचानक आई बाढ़ के चलते फंस गए। इसके बाद उनकी जान सांसत में आ गई। एक ओर पानी बढ़ता गया। तीनो युवक एक टापू में चढ़कर जान बचाई। किसी ने इसकी जानकारी स्थानीय प्रशासन को दी। मौके पर पहुंचे  एसडीएम सुनीता खंडाइत, तहसीलदार आकाश दहारे, टीआई अशोक मरावी व बल ने स्थानीय संसाधनो से उन्हे बाहर निकालने का प्रयास किया लेकिन तेज बहाव  होने के कारण फिर रेस्क्यू टीम को बुलाया गया। करीब दो घंटे के बाद तीनो युवक नदी के टापू से सुरक्षित बाहर निकाला गया।
 बताया गया है कि पिछले तीन दिनो से जिलो में अच्छी बारिश हो रही है। घंटे दो घंटे की बारिश से जंगल का पानी नदी में जाकर समा रहा है। जिससे अचानक नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। सुबह के समय रिमझिम बारिश के दौरान घुघरी क्षेत्र की बुढऩेर नदी तीन युवक लखन पिता रामलाल 24 वर्ष निवासी ग्वारा, गंगाराम पिता बाल सिंह 34 वर्ष निवासी मांगा, सिंगराम पिता नान शाह 30 निवासी ऐरी गए हुए थे। यहां बुढऩेर नदी रिमझिम बारिश में पहले तो शांत वेग से बहती रही। कुछ देर बाद अचानक नदी का जलस्तर बढ़ गया। जिसके चलते जिस जगह आने जाने का रास्ता रहा। वह जल मय में हो गया। तीनो युवक ये देखकर हैरान गए। पानी का बेग इतना था कि वे तैर कर भी नदी को पार नहीं पाते। इस घबराकर एक टापू में जाकर बैठ गए। इस घटना की जानकारी किसी प्रत्यक्षदर्शी युवको की फंसे होने की जानकारी स्थानीय प्रशासनिक अफसरो को दे दी। मौके पर पहुंचे अफसर नदी का बढ़ता जल स्तर देखकर हैरत में आ गए। स्थानीय संसाधनो से रेस्क्यू करने का प्रयास असफल रहा। इसके बाद मुख्यालय स्थित एसआरडीएफ को बचाव के लिए सूचना दी गई। यहां से एक घंटे का सफर तय कर टीम वहां पहुंची और तीनो युवको से टापू से सुरक्षित बाहर निकाला है। इसके बाद लोगो ने राहत की सांस ली है।
होमगार्ड टीम ने किया रेस्क्यू
टीआई घुघरी की सूचना पर प्लाटून कमांडर हेमराज परस्ते एसडीईआरएफ मंडला के हमराह में फगलाल बॉपचे वाहन चालक जवान सन्नी श्रीवास, आकाश ठाकुर, तोप सिंह कुलस्ते,राहुल नंदा, अजीत धुर्वे, देवेंद्र भवेदी,संदीप जंघेला सदन कुमार, पवन सोनवानी मय बचाव उपकरणों के साथ  घटना स्थल पहुंच कर तत्काल कार्यवाही करते हुए अत्यंत तेज़ बहाव में साहस का परिचय देते हुए फंसे हुए तीनों लोगो को जीवित सकुशल बाहर निकाला गया। तब जाकर लोगो ने राहत की सांस ली।
 

कमेंट करें
PrMh0
कमेंट पढ़े
Shubham August 14th, 2020 00:35 IST

Good इनपुट जब जीवन ध्यान में गहरा,और स्नेहियों का प्यारा,और तपस्वी गुरु, के शिष्यभाव मे डूबा हुआ होता है तो उसका जन्म दिन एक उत्सव के रूप में हो जाता है।