व्यापारी बनकर चिरईडोंगरी में पकड़े टाइगर के शिकारी, नाखून बाल बरामद

Tiger hunter caught in Chiraidongri as a trader, nail hair recovered
व्यापारी बनकर चिरईडोंगरी में पकड़े टाइगर के शिकारी, नाखून बाल बरामद
उत्तर बालाघाट में किया था शिकार, वन विभाग कर रहा वनविभाग व्यापारी बनकर चिरईडोंगरी में पकड़े टाइगर के शिकारी, नाखून बाल बरामद



डिजिटल डेक्स मंडला। वाइल्ड लाइफ क्राइम ब्रांच ब्यूरो और पश्चिम वन मंडल, मोहगांव प्रोजेक्ट की टीम ने व्यापारी बनकर टाइगर के 4 शिकारियों को चिरईडोंगरी रेलवे में पकड़ा है। इनके कब्जे से 4 नग नाखून, 33 नग मूछ के बाल और हड्डियों के अवशेष के साथ दो मोटरसाइकिल बरामद की गई है। शिकार बालाघाट के मोहगांव होने के कारण अग्रिम कार्रवाई उत्तर बालाघाट के लामता परिक्षेत्र के द्वारा की जा रही है।
जानकारी के मुताबिक टाइगर के शिकारी उसके नाखून और मूछ के बाल विक्रय करने की फिराक में घूमने की सूचना वाइल्ड लाइफ क्राइम ब्रांच ब्यूरो को मिली थी, जिसके बाद वाइल्ड लाइफ क्राइम ब्रांच ब्यूरो और पश्चिम वन मंडल, मोहगांव प्रोजेक्ट की संयुक्त टीम शिकारियों को दबाचने के लिए  योजना बनाई गई है।   व्यापारी बनकर टीम ने शिकारियों से संपर्क किया।  जिसके बाद बालाघाट चागूटोला और मोहगांव से शिकारी टाइगर के नाखून और मूछ के बाल बेचने की फिराक में चिरईडोंगरी रेलवे में आये थे। यहां टीम के द्वारा चार शिकारी  संतोष, परमानंद, सुनील और दिलीराम निवासी चागूंटोला मोहगांव को धर दबोचा गया है। इनके कब्जे से टाइगर के 4  नाखून, 33 नग मूछ के बाल और दो मोटर साइकिल जब्त की गई है। इसके बाद टीम घटना स्थल उत्तर बालाघाट लामता परिक्षेत्र के मोहगांव गई। यहां से टाइगर की हड्डिय़ों के अवशेष बरामद किये गये है।
करंट लगाकर किया टाइगर का शिकार-
बताया गया है कि उत्तर बालाघाट के वन परिक्षेत्र लामता के मोहगांव में आरोपियों के द्वारा टाइगर का शिकार करंट लगाकर एक पखवाड़े पहले किया गया था। यहां करंट लगने से टाइगर की खाल जल गई है। आरोपियों के द्वारा टाइगर के नाखून और मूछ के बाल काटकर टाइगर को मोहगांव के पास जंगल में दफना दिया गया था। शिकारी टाइगर के बाल और नाखून बेचने की फिराक में धरे गये है।
लामता परिक्षेत्र के सुपुर्द किया मामला-
संयुक्त टीम के द्वारा आरोपियों को पकडऩे के बाद मामले को उत्तर बालाघाट के वनपरिक्षेत्र लामता को सौंप दिया गया है। अब इस मामले की जांच लामता परिक्षेत्र के द्वारा की जाएगी। वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम के विभिन्न धाराओं के तहत आरोपियों पर मामला दर्ज किया जा रहा है।
बढ़ेगी शिकारियों की संख्या-
यहां शिकारियों की संख्या बढ़ेगी। टीम के द्वारा पकड़े गये चार शिकारियों से पूछताछ की जा रही हैं।  शिकारियों से 3 नाखून बरामद हो चुके है।  अन्य नाखून के बारे में जानकारी ली जा रही है। आरोपियों से पूछताछ में अन्य साथियों के नाम भी बताये है। 3 साथियो के नाम सामने आ चुके है। जिसके बाद वनविभाग की टीम अन्य आरोपियों की तलाश में  कर रही है।
कार्रवाई में ये रहे शामिल-
इस कार्रवाई में रेंजर राघवेंद्र गौतम, अतुल बाजपेई, सीएल झारिया, देवेंद्र दुबे, अनूप परमार, सचिन मिश्रा, विवेक ठाकुर, पवन यादव समेत वाइल्ड लाइफ क्राइम ब्रांच ब्यूरो और पश्चिम वन मंडल, मोहगांव प्रोजेक्ट की टीम के अन्य सदस्य शामिल रहे है।

Created On :   21 Sep 2021 12:45 PM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story