दैनिक भास्कर हिंदी: महिलाओं ने लगाए चौके-छक्के, मैदान पर दिखाया जनून

December 7th, 2017

डिजिटल डेस्क मंडला। महिलाएं किसी से कम नहीं है, पुरूषों की तरह हर कार्य में आगे है, यह दिखा रही है, आदिवासी बहुल मंडला जिले की महिलाए जो क्रिकेट के मैदान में चौके और छक्कों की बौछार कर रही है। दरअसल माहिष्मती सर्वांगीण विकास समिति पिछले चार साल से महिलाओं की हौसला अफजाई के लिए क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन कर रही है जिसमें महिलाएं बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही है। बुधवार को दो मैच का आयोजन कराया गया, जिसमें मोतीनाला और अंवती बाई की टीम ने जीत हासिल की है। पुलिस लाईन ग्राउंड में खेले गए पहले क्रिकेट मैच में मोतीनाला और मंडला महिला टीम आपस में भिड़ी है। जिसमें मोतीनाला की टीम ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है। मोतीनाला की टीम ने 69 रन बनाए, मधु उइके ने 21, राजकुमारी ने 10, सोमवती ने 17 और रामकली ने नौ रन की पारी खेली। चारो प्लेयर ने ग्राउंड के बाहर बाल पहुंचाई। अनुसुईया, बबीता, द्रोपती और रसना ने दो-दो विकेट लिये है। जबाबी पारी खेलने उतरी  गत विजेता मंडला महिला क्रिकेट टीम कुछ खास कमाल नही कर पाई। 37 रन पर टीम आल आउट हो गई। द्रोपदी ने 12, रसना ने 3 रन की पारी खेली। शेष टीम कुछ नहीं कर सकी। मधु, राजकुमारी और सोमवती ने दो-दो विकेट लिये है। द्रोपती उइके को मैच आफ दा मैच घोषित किया गया है।
दूसरा मैच उत्कृष्ट विद्यालय और रानी अवंती बाई की टीम के बीच खेला गया है। रानी अवंती बाई की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 56 रन बनाए। जिसमें राजकुमारी ने 14 रन,रंजना ने 9,प्रिया ने 8 और द्रोपती ने नौ रन की पारी खेली है। जबाबी पारी खेलने उतरी उत्कृष्ट विद्यालय की टीम 37 रन बनाकर आउट हो गई है। कविता ने 12 और अनसुईया ने 9 रन की पारी खेली है। अंवती बाई की राजकुमारी ने 5 विकेट लेकर टीम को हारी हुई पारी में जीत दिला दी। जिससे दोहरे प्रर्दशन के लिए मैन आफ दा मैच चुना गया है। आज फाइनल मैच अवंती बाइ्र और मोतीनाला की टीम के बीच खेला जाएगा।
ये रहे अतिथि
यहां क्रिकेट प्रतियोगिता में सासंद फग्गनसिंह कुलस्ते, एएसपी ओंकाम कलेश, शिखा श्रीवास्तव, अनीता चंदेल, निशा विश्वकर्मा, द्रोपती यादव, मनीषा शिववंशी, प्रीति ठाकुर, प्रीति राय, सुनीता डोंगसरे, अनीता, संगीता दुबे, सीमा सिंगौर, शशि पटेल समेत अन्य महिलाएं मौजूद रहे। यहां महिलाओं के क्रिकेट को देखने के लिए दर्शकों मौजूद रहे। यहां महिलाओं की होंसला अफजाई की गई।
चारदिवारी से बाहर आ रही महिलाएं
पिछले चार साल से महिला हिंसा विरोधी पखवाड़े में माहिष्मती सर्वांगीण विकास समिति क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन करा रही है। इसमें शहरी महिलाओं के अलावा ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं चारदिवारी से बाहर आकर क्रिकेट खेल रही है। चूल्हा चौका छोड़ क्रिकेट के मैदान में चौके छक्के जड़ रही है। जंतीपुर की महिला टीम के बाद पहली बार वनांचल से मोतीनाला की टीम शामिल हुई है। वनाचंल की महिलाएं भी क्रिकेट में हाथ आजमा रही है।