comScore

इन देशों के खुले रेड लाइट एरिया में किसिंग और तेजी से सांस लेने पर बैन, जाने क्या है वजह

इन देशों के खुले रेड लाइट एरिया में किसिंग और तेजी से सांस लेने पर बैन, जाने क्या है वजह

हाईलाइट

  • इन देशों में खुले रेट लाइट एरिया
  • ग्राहकों को करना होगा प्रतिबंधों का पालन
  • मास्क लगाना अनिवार्य, किसिंग की नहीं है अनुमति

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोनावायरस (Coronavirus) के तहत लागू लॉकडाउन (Lockdown) के कई चरण बीत चुके हैं। वर्तमान में कई देश ऐसे हैं जहां लॉकडाउन में छूट दी गई है या फिर लॉकडाउन पूरी तरह से हटा दिया गया है। लॉकडाउन में मिली रियायतों के बाद अब लोग अपने काम पर वापस जाने लगे हैं। ऐसे में नीदरलैंड्स (Netherlands) और थाईलैंड (Thailand) की सरकार ने भी अपने देश में रेड लाइट एरिया और ब्रोथेल (वेश्यालयों) को खोलने की अनुमति दे दी है। हालांकि कोरोना (Corona) के चलते कई तरह के बदलाव और प्रतिबंध लागू किए गए हैं। जिनमें एक अहम नियम किस ना करना है। 

रेड लाइट एरिया (Red Light Area) या ब्रोथेल (Brothel) जा तो सकते हैं, लेकिन वहां किस (Kiss) नहीं कर सकते क्योंकि आपको व आपके साथ उस वक्त समय बिताने वाली महिला को मास्क (Mask) लगाना अनिवार्य है। 

बैंकॉक (Bangkok) बार, रेड लाइट एरिया और काराओके (Karaoke) के लिए फैमस है, जहां बड़ी तादाद में हर साल टूरिस्ट आते हैं। हालांकि कोरोना का कहर बैंकॉक पर भी पड़ता नजर आया, लेकिन बीते 37 दिनों से यहां कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया। जिसके बाद 1 जुलाई से यहां रेड लाइट एरिया खोल दिए गए। बता दें, रेट लाइट एरिया बीते तीन महिनों से बंद थे। वहीं थाईलैंड में बार, काराओके वेन्यू, मसाज पार्लर आदि भी खुल गए हैं। 

समाचार एजेंसी रॉयटर्स (Reuters) की खबर के मुताबिक रेड लाइट एरिया में आप जा तो सकते हैं, लेकिन जाने वालों को कुछ प्रतिबंधों का पालन करना जरूरी है। इन प्रतिबंधों के मुताबिक रेड लाइट एरिया में जाने वाले और वहां मौजूद लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य है। साथ ही पहले खुद को पूरी तरह ढंग से सैनिटाइज (Sanitize) करना होगा। इन सबमें सबसे अहम प्रतिबंध जो है जिसको लेकर चर्चा बनी हुई है वो ये है कि किसिंग नहीं करेंगे और ना ही तेज सांस (Moaning) लेंगे।

इस देश में पोर्न देखने पर सजा-ए-मौत, बाइबल रखने पर भेजा जाएगा जेल

Study: सेक्स के बाद महिलाओं को पुरुषों की तुलना में बेहतर नींद आती है

इस सब के अलावा रेड लाइट एरिया में प्रवेश के साथ ही ग्राहक का तापमान चैक किया जाएगा। ग्राहक का पूरा नाम, पता और फोन नंबर नोट किया जाएगा। यही नहीं डांस बार जाने वालों को स्टेज से करीब दो मीटर की दूरी पर बैठना होगा। साथ ही अंदर मौजूद लोगों को भी आपस में करीब 1 मीटर की दूरी रखनी होगी।

 


थाईलैंड के साथ साथ नीदरलैंड्स में भी 1 जुलाई से रेड लाइट एरिया खुल गए हैं। यहां भी थाईलैंड की ही तरह नियम और प्रतिबंध लागू किए गए हैं। बता दें, दोनों देशों में सेक्स वर्कर्स पहले से ही हाइजीन को लेकर बहुत सख्त हैं और अब कोरोना के मद्देनजर इसे और भी ज्यादा बढ़ा दिया गया है। 


एमस्टरडैम (Amsterdam) की पब्लिक हेल्थ एडवाइजर डॉबी मेनसिंग ने कहा कि रेड लाइट एरिया में रहने वाली सेक्स वर्कर्स (Sex Workers) के लिए कोविड-19 (Covid-19) का खतरा ज्यादा है क्योंकि उनका काम ही वैसा है, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करना संभव ही नहीं है। पर क्योंकि बीते 3 माह से लॉकडाउन के चलते सेक्स वर्कर्स का काम बंद था इसलिए अब लोगों को अपनी जरूरतों को कई सख्त प्रतिबंधों में बांधकर पूरा करना होगा। ताकि इस महामारी (Pandemic) के फैलने की गुंजाइश कम से कम रहे। 

मोइरा मोना (Moira Mona) नाम की सेक्स वर्कर ने बताया कि उसने पहले ही सुरक्षा से संबंधित अपनी सारी तैयारियां कर ली हैं। मोइरा ने बताया कि उसने लेटेक्स के कपड़े, लेदर फेस मास्क, सर्जिकल फेस मास्क, दस्ताने आदि मंगवा लिए हैं। इसलिए उसे चिंता नहीं है। मोइरा ने कहा कि यदि किसी ने इन नियमों का पालन नहीं किया तो उसे बिना देर किए वापस भेज दिया जाएगा। 

मोइरा ने ये भी बताया कि लॉकडाउन के दौरान वो वेबकैम शो के जरिए अपना गुजरा करती थीं। लेकिन अगर लॉकडाउन और अधिक चलता और रेट लाइट एरिया शुरू नहीं होता तो उनकी सारी सेविंग खत्म हो जाती और उनके लिए गुजारा करना बेहद मुश्किल हो जाता। 

कमेंट करें
Ktc86