आरोप : पुलिस ने अफ्रीकी-अमेरिकी शख्स की बर्बरता के साथ की पिटाई

January 24th, 2023

डिजिटल डेस्क, वाशिंगटन। लापरवाह ड्राइविंग के लिए मेम्फिस में पुलिस की पिटाई से मृत 29 वर्षीय अफ्रीकी-अमेरिकी के वकीलों ने कहा कि उसकी बहुत क्रूरता की साथ मारापीटा गया था।

मेम्फिस पुलिस विभाग ने 7 जनवरी की घटना के बाद पांच अधिकारियों टैडेरियस बीन, डेमेट्रियस हेली, एम्मिट मार्टिन तृतीय, डेसमंड मिल्स जूनियर और जस्टिन स्मिथ को बर्खास्त कर दिया है।

सभी पांचों अधिकारी अफ्रीकी-अमेरिकी हैं।

सोमवार को मृतक टायर निकोलस के परिवार ने पुलिस के साथ उसकी मुठभेड़ के फुटेज देखे और उसे एक हिंसक व परेशान करने वाले दृश्य बताया।

मृतकि की मां रोवॉन वेल्स ने मीडियाकर्मियों से कहा, मेरा बेटा एक खूबसूरत इंसान था। कोई भी पूर्ण नहीं है, लेकिन वह बहुत करीब था।

उन्होंने कहा कि उसने ड्रग्स का इस्तेमाल नहीं किया था, न ही हथियार चलाया था, और टकराव पसंद नहीं किया। उसकी मौत को उन्होंने पुलिस द्वारा हत्या करार दिया।

वेल्स ने कहा, जिस दिन निकोलस को मेम्फिस पुलिस द्वारा रोका गया था, वह शेल्बी फार्म्स पार्क जा रहा था, जहां उसे स्केटबोर्ड करना और प्रत्येक शाम के सूर्यास्त को देखना पसंद था।

अधिकारियों ने कहा है कि पुलिस ने लापरवाह ड्राइविंग के लिए निकोलस को रोका था और उनके बीच टकराव हुआ।

अधिकारियों के अनुसार पुलिस ने जब उसे रोका, तो वह कार से उतरकर पैदल भागने का प्रयास किया।

इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ना चाहा तो उनके बीच झड़प हो गई।

पुलिस ने कहा कि निकोस ने सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की और उसे एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे गंभीर हालत में भर्ती कराया गया।

अधिकारियों ने कहा कि निकोलस ने 10 जनवरी को चोट के कारण दम तोड़ दिया।

मौत का आधिकारिक कारण अभी तक सामने नहीं आया है।

सोमवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस में निकोलस परिवार के एक वकील एंटोनियो रोमानुची ने कहा कि इस मुठभेड़ में पुलिस ने युवक की तीन मिनट तक लगातार पिटाई की।

बीबीसी ने रोमनुची के हवाले से कहा, पुलिस की कार्रवाई न केवल हिंसक, बल्कि बर्बर भी थी।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.