comScore
Dainik Bhaskar Hindi

गुंटूर: 10 साल की मासूम से रेप, गुस्साए लोगों ने आरोपी की तुरंत गिरफ्तारी की मांग 

BhaskarHindi.com | Last Modified - May 16th, 2018 15:22 IST

1.2k
0
0

डिजिटल डेस्क,  गुंटूर। आंध्रप्रदेश में मासूम बच्चियों के शोषण की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। राज्य में एक और रेप का मामला सामने है। यहां गुंटूर में 10 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म हुआ है। इस घटना के सामने आते ही स्थानीय लोग आग बबूला हो गए। गुस्साए लोगों ने पुलिस स्टेशन के बाहर जमकर हंगामा किया और पुलिस स्टेशन पर जमकर पत्थरबाजी की। बताया जा रहा है कि लोगों का गुस्सा इतना उग्र था कि इन लोगों की पत्थरबाजी का कुछ पुलिस कर्मी भी शिकार हो गए हैं। आनन-फानन में पुलिस ने गुस्साए लोगों का शांत कराया। 

 

Image result for आंध्र प्रदेश में 10 साल की मासूम से रेप,

 

स्थानीय लोगों की मांग है कि जल्द से जल्द आरोपी को गिरफ्तार किया जाए। इतना नही पीड़ित परिवार को हर संभव मदद भी करने की मांग की है। फिलहाल पुलिस ने 10 साल की पीड़िता को मेडिकल चेकअप के लिए जिला अस्पताल भेजा है। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि इस तरह पुलिस स्टेशन पर पत्थरबाजी करना ठीक नही है। पुलिस अधिकारियों ने दोषी के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई करने का गुंटूर निवासियों को भरोसा दिलाया है। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच की शुरू कर दी है।  

 

Image result for आंध्र प्रदेश में 10 साल की मासूम से रेप,

 

आंध्रप्रदेश के चिंटापाले ब्लाक में एक दलित लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने 35 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वही गुंटूर जिले में बालगृह चलाने वाले एक पादरी ने 13 साल की एक लड़की से कथित तौर पर बलात्कार किया। लड़की ने इस हरकत के बारे में अपनी मां को बताया। उसके बाद 17 दिसंबर को शिकायत दर्ज कराई गई और मामले की जांच चल रही है। 

 

Image result for आंध्र प्रदेश में 10 साल की मासूम से रेप,

 

बड़े अफ़सोस की बात है कि देश के हर शहर और गाँव में ये वीभत्स्य कांड हो रहे हैं। राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में प्रति दिन 92 महिलाओं और बच्चियों से बलात्कार या गैंग रेप किया जा रहा है। एनसीआरबी के आँकड़े से यह भी पता चला है कि बलात्कार के मामलों में 94 प्रतिशत अपराधी पीड़िता के परिचित ही है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर