comScore

नई रेल लाइन निर्माण के लिए मिले 164 करोड़ , रेल मंत्रालय ने जारी की पिंक बुक

नई रेल लाइन निर्माण के लिए मिले 164 करोड़ , रेल मंत्रालय ने जारी की पिंक बुक

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। पश्चिम मध्य रेलवे को नई रेल लाइन के निर्माण के लिए 164 करोड़ रुपए की पूंजी का प्रावधान किया गया है। इसके साथ विकास कार्यों के लिए भी बड़ी राशि का प्रावधान किया गया है। यह जानकारी रेल मंत्रालय द्वारा सभी क्षेत्रीय रेलों एवं उत्पादन इकाईयों को आवंटित कोष एवं नई योजनाओं के संबंध में पिंक बुक जारी कर दी है। विदित हो कि इन प्रावधानों की घोषणा वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2019-2020 के केन्द्रीय बजट में की थी।

विकास कार्यों को मिला कोष
- 1187 करोड़ रुपए भंडार उचंत के लिए
- 727 करोड़ रुपए निर्माण उचंत के लिए
- 108 करोड़ रुपए विविध अग्रिम के लिए
- 65 करोड़ रुपए दोहरी लाइन बिछाने के लिए
-  41.74 करोड़ रुपए यात्री सुविधाओं के लिए
- 19 करोड़ रुपए यातायात सुविधा, यार्ड परिवर्तन के लिए
- 12 करोड़ रुपए चल स्टॉक के लिए
- 11.28 करोड़ रुपए कर्मचारी कल्याण के लिए
- 8.50 करोड़ रुपए कारखाने-उत्पादन इकाईयों के लिए
- 8.13 करोड़ रुपए अन्य विनिदिष्ट कार्य के लिए
- 5 करोड़ रुपए पुल, सुरंग, पहुंच मार्ग के लिए
- 5 करोड़ रुपए बिजली, कर्षण कार्य के लिए
- 4.42 करोड़ रुपए मशीनरी और संयंत्र के लिए
- 1 करोड़ रुपए सिग्नल एंड टेलीकॉम के लिए
- 1 करोड़ रुपए संगणकीकरण के लिए

इंतजार करते रहे यात्री, ट्रेन आई ही नहीं

ट्रेनों के परिचालन में रेलवे इन दिनों हद दर्जे की लापरवाही बरत रहा है, पिछले एक सप्ताह के दौरान यह तीसरा ऐसा मौका है जब दिल्ली की ओर जाने वाली गाडिय़ां अपने निर्धारित समय से 2 घंटे की देरी से रवाना हुईं। वैसे ट्रेन का लेट होना आम बात है लेकिन यात्रियों का गुस्सा इस बात को लेकर है कि जब जबलपुर रेलवे स्टेशन से ट्रेन बनकर चलती है तो फिर घंटों की देरी के पीछे क्या कारण हो सकते हैं, उनके मन में ये सवाल उठ रहे हैं कि क्या यार्ड में ट्रेनों का रख-रखाव और सुधार कार्य में लापरवाही से किया जा रहा है। बुधवार की शाम दिल्ली की ओर जाने वाली मप्र संपर्क क्रांति के यात्री रेलवे की लापरवाही की वजह से घंटों परेशान होते रहे। मुख्य रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नं. 6 से शाम 7.10 बजे रवाना होने वाली मप्र संपर्क क्रांति एक्सप्रेस आने की घोषणा रात 8.40 बजे हुई, जिससे  यात्रियों में भगदड़ का माहौल पैदा हो गया। उसके बाद ट्रेन रात 9 बजकर 5 मिनट पर रवाना हुई।
 

कमेंट करें
02fxS