comScore

बोर्ड परीक्षा में असफल होने पर दो छात्राओं ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

बोर्ड परीक्षा में असफल होने पर दो छात्राओं ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

डिजिटल डेस्क, सतना। हाईस्कूल और हायर सैकेंड्री के परीक्षा परिणाम घोषित होते ही असफल होने पर यहां दो छात्राओं ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया गया है कि परणिाम आने के बाद जहां हजारों बच्चों के चेहरे खिल उठे वहीं बड़ी संख्या में ऐसे भी छात्र रहे, जिनके अंक अपेक्षा अनुरुप नहीं आए। इन्हीं में से दो छात्राओं ने हताश होकर मौत को गले लगा लिया। दोनो ही घटनाएं रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र में सामने आयी है। दोनों ही मामलों में पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

परिणाम आते ही कमरे में लगा ली फांसी
इस संबंध में पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक ग्राम बरती निवासी रुचि वर्मा पुत्री झल्ला वर्मा 16 वर्ष, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय छिबौरा में 12 वीं की छात्रा थी। उसने पूरी तैयारी के साथ परीक्षा में भी भाग लिया था, लेकिन जब 15 मई को परिणाम घोषित हुए तो रुचि का नाम अनुत्तीर्ण परीक्षार्थियों में था। यह देखते ही किशोरी हताश हो गई और सुबह करीब 11 बजे कमरे में जाकर फांसी लगा ली। जब तक परिजन को पता चला तो उसकी सांसे थम चुकी थी। 

पास होने की थी उम्मीद 
वहीं दूसरी घटना जमुना गांव में सामने आयी जहां लक्ष्मण सिंह की 16 वर्षीय बेटी प्रतिभा सिंह ने 10 वीं की परीक्षा में फेल होने पर फांसी लगा ली। वह सुबह से ही परिणाम देखने को लेकर काफी उत्साहित थी लेकिन जब इंटरनेट पर अपने अंक देखे तो तीन विषयों में असफल हो गई थी। इस बात से परेशान होकर छात्रा ने लगभग 12 बजे कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर फांसी लगा ली। लगभग काफी देर तक बाहर नहीं आयी तो परिवार के किसी सदस्य ने आवाज लगाई, लेकिन कोई जबाव नहीं मिला तब घर के लोग दरवाजा तोड़कर अंदर गए जहां प्रतिभा फंदे पर झूलती मिली। दोनों ही मामलों में पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

कमेंट करें
KdfAB