comScore

तमिलनाडू; ट्रेकिंग पर गए लोग जंगल की आग में फंसे 9 की मौत, 27 का रेस्क्यू

March 12th, 2018 16:30 IST

डिजेटल डेस्क, थेनी। तमिलनाडु के थेनी जिले के जंगलों में रविवार शाम भीषण आग लग गई। ट्रैकिंग पर गए 37 लोग इस आग के बीच फंस गए। इसमें 20 छात्र बताए जा रहे हैं। इस आग में 9 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 27 लोगों को रेस्क्यू कर लिया है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण इस घटना पर लगातार नजर बनाए हुई है। मुख्यमंत्री ई. पलानीसामी ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आग्रह किया था कि वह वायु सेना को राहत-बचाव कार्य करने और लोगों को वहां से निकालने के निर्देश दें। जिला कलेक्टर के मुताबिक कुल 37 लोग ट्रैकिंग पर गए थे।इनमें 13 इरोड और थिरुप्पुर से हैं और 24 लोग चेन्नई के हैं। इनमें 26 महिला, 8 पुरुष और 3 बच्चे हैं। ये सभी लोग चेन्नई ट्रैकिंग क्लब की ओर से यहां आए थे। इनमें 15 लोग झुलस गए हैं। वहीं स्थानीय जनजातियों और अग्नि एवं बचाव सेवा एवं वनकर्मियों ने 12 लोगों को बचा लिया है।


रक्षा मंत्री का ट्वीट
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जहां 37 लोग इस आग में फंसे है। वहीं  स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो करीब 55 लोग इस आग में फंसे हो सकते हैं। खबर ये भी आ रही है कि इनमें शामिल करीब 10-15 छात्रों को बचा लिया गया है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि साउदर्न कमांड थेनी के कलेक्टर के साथ संपर्क में है। उन्होंने ट्वीट किया- ”मैंने जिला कलेक्टर से बात की है, उन्होंने बताया कि 10-15 छात्रों को बचाया जा चुका है। वे पहाड़ी से नीचे आ रहे हैं।” थेणी के जिला कलेक्टर पल्लवी बलदेव ने बताया कि सभी स्टूडेंट्स सुरक्षित हैं। 



शाम 4 बजे से फंसे है छात्र
मदुरै सर्कल के वन संरक्षक आर. के. जेगानिया ने बताया, 'आग में घिरे लोगों में कॉलेज के स्टूडेंट्स शामिल हैं। ये लोग शाम करीब 4 बजे आग में फंस गए। फंसी हुई एक स्टूडेंट ने अपने पिता को फोन से घटना की जानकारी दे दी, जिन्होंने फौरन वन विभाग को अलर्ट किया। स्टूडेंट्स ने ट्रैकिंग के लिए इजाजत नहीं ली थी। हमने बचाव अभियान के लिए 40 जवानों को घटनास्थल पर भेज दिया है।'

रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार वायुसेना का एमआई-17 हेलीकॉप्‍टर सुलुर से घटनास्‍थल के लिए रवाना हो चुका है। नुकसान का जायजा लेने के लिए पहले हवाई सर्वेक्षण किया जाएगा।

कमेंट करें
YmE8a