comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सेहत के लिए हानिकारक 328 दवाओं पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने लगाया बैन

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 13th, 2018 10:57 IST

2.8k
2
0
सेहत के लिए हानिकारक 328 दवाओं पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने लगाया बैन

News Highlights

  • सेहत के लिए हानिकारक 328 दवाएं बैन
  • बैन से फॉर्मा सेक्टर को होगा भारी नुकसान
  • तय मानकों पर खरी नहीं उतरी दवाएं बैन


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सरकार ने लोगों द्वारा आमतौर पर और डॉक्टर से परामर्श पर उपयोग की जाने वाली  328 एफडीएस दवाओं के उत्पादन, बिक्री और वितरण पर प्रतिबंध लागा दिया है। विक्स एक्शन 500, कोरेक्स जैसी सर्दी-खांसी और बुखार के लिए आमतौर पर उपयोग की जाने वाली दवाइयों पर सरकार ने बैन लगाया है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि यह दवाइयां लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। ड्रग एडवायजरी बोर्ड की रिपोर्ट को मानते हुए मंत्रालय ने यह फैसला लिया है।

फार्मा सेक्टर को होगा नुकसान
इन 328 दवाइयों के साथ मंत्रालय 6 अन्य कॉम्बिनेशन वाली दवाइयों के उत्पादन के साथ वितरण पर रोक लगाने जा रहा है। इस प्रतिबंध के चलते फार्मा सेक्टर को लगभग डेढ़ हजार करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ सकता है। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि जनता के स्वास्थ्य से बड़ा नुकसान और कोई नहीं हो सकता।  इसमें पिरामल सेरिडॉन, मेक्लिऑड्स फॉर्मा पैंडर्म प्लस क्रीम और अल्कीम लैबोरेटरी टैक्सिम एजे जैसी दवाइयां शामिल हैं। 

मानकों पर खरी नहीं उतरी दवाएं
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक ये दवाएं मरीजों की सेहत को लेकर तय मानकों पर खरी नहीं उतर पाई हैं। इसके चलते इन पर बैन लगा दिया गया है। वहीं इससे पहले इन दवाओं पर लगे प्रतिबंध को दिल्ली हाईकोर्ट में दवा कंपनियों ने चुनौती दी थी, हाईकोर्ट ने बैन के फैसले को रद्द कर दिया था जिसके बाद बाजार में फिर से ये दवाएं बिकने लगी थीं।   

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर