comScore
Dainik Bhaskar Hindi

चुनाव के दौरान शराब तस्करी रोकने बनी 40 जांच चौंकियां -  सीसीटीवी की भी नजर    

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2019 18:26 IST

1.2k
0
0
चुनाव के दौरान शराब तस्करी रोकने बनी 40 जांच चौंकियां -  सीसीटीवी की भी नजर    

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनावों के दौरान दूसरे राज्यों से शराब की तस्करी रोकने के लिए उत्पाद शुल्क विभाग ने सीमाओं के पास छानबीन के लिए 40 नाके यानि जांच चौकी बनाने का फैसला किया है। उत्पाद शुल्क विभाग की आयुक्त प्राजक्ता लवंगारे वर्मा ने शराब तस्करी और चुनावों में इसका दुरूपयोग रोकने के लिए विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने अधिकारियों से कहा कि उन्हें रोजाना इलाके में बिकने वाली शराब से जुड़ी जानकारी दी जाए।

दरअसल पड़ोसी राज्यों में शराब सस्ती होने के चलते इस बात की आशंका है कि मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए तस्करी के जरिए शराब लाई जा सकती है। इसीलिए सीमाई इलाकों में ज्यादा निगरानी का फैसला नहीं किया है। लवंगारे ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि शराब के थोक विक्रेताओं के ठिकानों पर सीसीटीवी के जरिए नजर रखी जाए और मतदान और मतगणना के दौरान शराब बिक्री पर लगी रोक पर भी कड़ाई से अमल किया जाए। अधिकारियों को कहा गया है कि अगर किसी दुकान पर शराब की बिक्री सामान्य से काफी ज्यादा नजर आए तो इसकी गहराई से छानबीन की जाए और

मामले में किसी तरह की गड़बड़ी मिले तो कठोर कार्रवाई की जाए। चुनाव के दौरान हर जिले में राजस्व वसूली, 14 ऑनलाइन सेवाओं के प्रभावी कार्यान्वयन, शराब उत्पादन का कंप्यूटर पर रोजाना विवरण दर्ज करना और अपराधों से जुड़ी छानबीन बेहतर तरीके के करने की हिदायत भी लवंगारे ने अधिकारियों को दी। उल्लेखनीय है कि चुनाव के आसपास शराब की बिक्री तेजी से बढ़ती है।     

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download