comScore

पुलवामा हमले के बाद इंडियन आर्मी ने मार गिराए 41 आतंकी, 25 जैश के : केजेएस ढिल्लन


हाईलाइट

  • जम्मू कश्मीर में साल 2019 में अब तक कुल 69 आतंकवादी मारे जा चुके हैं।
  • 15 कॉर्प्स के GOC केजेएस ढ़िल्लन ने शनिवार को इस बात की पुष्टि की।
  • पुलवामा हमले के बाद भारतीय सेना ने कश्मीर घाटी में 41 आतंकियों को मार गिराया है।

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में साल 2019 में अब तक कुल 69 आतंकवादी मारे जा चुके हैं और 15 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है। 15 कॉर्प्स के जनरल कमांडिंग ऑफिसर (GOC) केजेएस ढ़िल्लन ने शनिवार को इस बात की पुष्टि की। केजेएस ढिल्लन ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय सेना ने कश्मीर घाटी में 41 आतंकियों को मार गिराया है। जिसमें से 25 जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी थे। इन 25 आतंकियों में से 13 आतंकी पाकिस्तान के थे। 

जम्मू-कश्मीर के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस दिलबाग सिंह, इंस्पेक्टर जनरल एसपी पानी और 15 कॉर्प्स के GOC केजेएस ढ़िल्लन और CRPF के IG जुल्फिकर हसन ने बुधवार को श्रीनगर में एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की। इस दौरान इन लोगों ने कहा कि राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है।

केजेएस ढिल्लन ने कहा, हमने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों को मार गिराया। अब स्थिति यह है कि घाटी में JeM का नेतृत्व करने के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है। पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान लगातार प्रयास कर रहा है कि वह भारत में जैश के आतंकी भेजे, लेकिन हम हम उन्हें कामयाब नहीं होने देंगे। आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई पूरे जोश के साथ जारी रहेगी और हम आतंकवाद को बढ़ने नहीं देंगे।

जम्मू कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह ने कहा, आतंकी संगठनों में स्थानीय युवाओं की भर्ती कम होती जा रही है। यह देश के लिए अच्छे संकेत हैं। साल 2018 में राज्य में 272 आतंकवादी मारे गए थे। इतना ही बड़ी संख्या में आतंकी गिरफ्तार भी किए गए थे। हम ऐसे ही पूरे जोश के साथ आगे भी काम करते रहेंगे।

बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में CRPF जवानों के काफिले पर एक फिदायीन हमला हुआ था। जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। पुलवामा में CRPF जवानों पर हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने पाक स्थित जैश के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया था, जिसमें 300 आतंकियों के मारे जाने का दावा किया गया था। 

इस हमले के बाद पाकिस्तानी जेट F-16 ने भी भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की थी, जिसे भारतीय पायलट अभिनंदन वर्थामन ने मार गिराया था। वह MIG-21 फाइटर जेट पर सवार थे। पाकिस्तानी जेट को गिराने के बाद अभिनंदन का प्लेन भी पाकिस्तान में गिर गया था। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें बंदी बना लिया था। अभिनंदन को कब्जे में लेने के 60 घंटे बाद पाक ने उन्हें अटारी बॉर्डर के रास्ते भारत को सौंप दिया था।

कमेंट करें
o925d