comScore
Election 2019

जेईई एडवांस, मेन्स क्वालिफाई करने वाले 72 हजार स्टूडेंट्स रेस से बाहर

जेईई एडवांस, मेन्स क्वालिफाई करने वाले 72 हजार स्टूडेंट्स रेस से बाहर

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  आईआईटी रुड़की द्वारा नागपुर समेत देशभर के विविध शहरों में 27 मई को जेईई एडवांस परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसके पूर्व नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा 7 से 20 अप्रैल के बीच जेईई मेन्स की परीक्षा आयोजित की गई थी, जिसमें 2.45 विद्यार्थी एडवांस के लिए पात्र हुए थे। लेकिन 3 से 9 मई के बीच जेईई एडवांस परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन हुए। इस अवधि में कुल 1 लाख 73 हजार विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया। मेन्स क्वालिफाई करने वाले 72 हजार विद्यार्थियों ने एडवांस परीक्षा में रुचि नहीं दिखाई।

इसलिए इस बार बढ़ाई गई सीटें
जानकारों के अनुसार इसके कारण हो सकते हैं कि विद्यार्थियों को आईआईटी में या तो प्रवेश नहीं चाहिए या फिर जेईई एडवांस देने के उनके अटेंम्ट समाप्त हो गए हों। प्रत्येक विद्यार्थी के अपने-अपने कारण हो सकते हैं, लेकिन एक बात तय है कि इस बार जेईई एडवांस में जो 21 हजार सीटें बढ़ाई गईं, विद्यार्थी  उनका बहुत सा लाभ उठाते नजर नहीं आए। इस बार जेईई मेन्स परीक्षा में कुल 2 लाख 45 हजार विद्यार्थियों को एडवांस के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाना था। पिछले वर्ष तक जेईई मेन्स के परीक्षार्थियों में से 2.24 लाख विद्यार्थियों को शॉर्टलिस्ट किया जाता था। इस बार जनरल श्रेणी के गरीब विद्यार्थियों के लिए लागू हुए आरक्षण के चलते सीटे बढ़ाई गई हैं। 

परीक्षा पास करने 35 प्रतिशत अंक जरूरी 
27 मई को आयोजित परीक्षा दो चरणाें में होगी। प्रथम पेपर सुबह 9 से दोपहर 12 बजे के बीच और द्वितीय पेपर दाेपहर 2 से शाम 5 बजे तक होगा। परीक्षा में उत्तीर्ण करने के लिए कम से कम 35 प्रतिशत अंक जरूरी होेंगे। प्रत्येक विषय मंे करीब 10 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी होगा। आरक्षित प्रवर्ग या दिव्यांग विद्यार्थियों को 17.5 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी होगा। प्रत्येक विषय में 5 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी होगा। ऑल इंडिया रैंकिंग और स्कोर के आधार पर विद्यार्थियों को आईआईटी में प्रवेश मिलेगा।


 

Loading...
कमेंट करें
itUIP
Loading...