comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कबूतर चोरी की शिकायत करने पर 70 साल के बुजुर्ग की पीट पीटकर हत्या, पुणे में भी बुजुर्ग का कत्ल

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 12th, 2019 21:49 IST

1.7k
0
0
कबूतर चोरी की शिकायत करने पर 70 साल के बुजुर्ग की पीट पीटकर हत्या, पुणे में भी बुजुर्ग का कत्ल

डिजिटल डेस्क, मुंबई। 70 साल के बुजुर्ग को कुछ लोगों ने बेरहमी से पीटकर इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि बुजुर्ग ने कबूतर चोरी को लेकर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। वसई इलाके में बुजुर्ग की नौ लोगों ने पीट पीटकर हत्या कर दी। आरोपी इसलिए नाराज थे कि बुजुर्ग ने उनमें से कुछ के खिलाफ कबूतर चोरी के आरोप में पुलिस स्टेशन में शिकायत की थी। पुलिस ने मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक फरार है। वारदात पालघर जिले के वसई में स्थित रानगांव की है।

यहां लहूपाडा में रहने वाले 70 वर्षीय रामचंद्र राऊत का कबूतर चोरी हो गया था। राऊत को उसी इलाके के कुछ लोगों पर शक है, जिसके आधार पर उन्होंने शुक्रवार सुबह वसई पुलिस स्टेशन में शिकायत की थी। पालघर पुलिस के प्रवक्ता हेमंत काटकर ने बताया कि नौ आरोपी शुक्रवार रात साढ़े सात बजे के राऊत के घर पहुंचे। उन्होंने कबूतर चोरी के मामले में नामजद शिकायत करने को लेकर सवाल किया इसके बाद एक आरोपी ने बुजुर्ग का गला कसकर पकड़ा, जबकि दूसरों ने उन्हें पीटना शुरू कर दिया। 

सिर, सीने और पीठ पर चोट लगने से बुरी तरह जख्मी राऊत को नजदीकी सर डीएम पेटीट अस्पताल ले जाया गया, लेकिन दाखिल करने से पहले ही डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद शिकायत के आधार पर वसई पुलिस ने आईपीसी की धारा 302, 452, 143, 147, 149, 323, 504, 506 के तहत जबरन घर में घुसकर मारपीट और हत्या के आरोप में एफआईआर दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी। खबर लिखे जाने तक पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है एक फरार आरोपी की तलाश जारी है।  

चोरों की मारपीट में बुजुर्ग की मौत
उधर पुणे में चोरों द्वारा की गई गंभीर मारपीट में 80 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। जबकि उनकी पत्नी घायल हो गईं। यह वारदात शनिवार के तड़के करीब दो बजे आंबेगांव स्थित पारगांव शिंगवे में हुई। पुलिस ने बताया कि कुशाबा पिराजी लोखंडे (80) की मौत हो गई है। उनकी पत्नी सुमन कुशाबा लोखंडे (72) घायल हो गई हैं। घटना को लेकर मंचर पुलिस थाने में अज्ञात चोरों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। लोखंडे दंपति पारगांव माली मला बस्ती पर रहते हैं। अज्ञात चारों ने घर की छत से भीतर प्रवेश किया। तब लोखंडे दंपति जग गए। चोरों ने उन पर कुल्हाड़ी से हमला किया। इसमें दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। उनकी आवाज से पड़ोसी जग गए। उन्होंने तत्काल लोखंडे दंपति को मंचर ग्रामीण अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन कुशाबा की इलाज से पहले ही मौत हो गई थी। उनकी पत्नी का इलाज चल रहा है। 

पुलिस चौकी की हो रही मांग
बता दें कि पिछले पंद्रह दिनों पहले मांदलेवाड़ी गांव स्थित आदक परिवार के घर में घुसकर चोरों ने इसी प्रकार से हमला कर चोरी की थी। चोरी की बढ़ती घटनाओं के कारण लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। इसलिए इन परिसरों में पुलिस चौकी स्थापित करने की मांग लोग कर रहे है।  
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download