comScore

माल्या के खिलाफ बड़ा खुलासा, IPL में लगाया बैंक से लिया लोन

July 27th, 2017 14:23 IST
माल्या के खिलाफ बड़ा खुलासा, IPL में लगाया बैंक से लिया लोन

टीम डिजिटल,नई दिल्ली. किंगफिशर एयरलाइंस और बैंक डिफॉल्टर विजय माल्या को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है.माल्या ने बैंक से लिए लोन का गलत इस्तेमाल किया है.यूनाइटेड स्पिरिट्स लिमिटेड के सर्वर से मिले ई-मेल से खुलासा हुआ है कि माल्या और उनके सहयोगियों ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से लिए गए लोन का इस्तेमाल अपनी आईपीएल टीम पर खर्च किया. ई-मेल से पता चला है कि एसबीआई अधिकारियों ने विजय माल्या को लोन का दुरुपयोग न करने का विरोध किया था. बैंक के विरोध के बावजूद माल्या और उनके करीबियों ने जनता के पैसे का इस्तेमाल आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दूसरी जगह किया.

दरअसल, विजय माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस के दिवालिया होने के बाद विजय माल्या ने एसबीआई से लोन लिया. बैंक ने अप्रैल, 2008 में किंगफिशर एयरलाइंस के लिए 500 करोड़ का लोन पास कर दिया. इसी साल विजय माल्या ने आईपीएल में बाजी खेली. माल्या ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के नाम से अपनी टीम बनाई और इस टीम पर 476 करोड़ रुपये खर्च किया. इससे कुछ दिन पहले ही माल्या ने आर्थिक हालात खराब होने के बावजूद डेक्कन एयरलाइंस के शेयर खरीदे और उस पर अधिग्रहण कर लिया. बताया जा रहा है कि माल्या ने किंगफिशर की हालत सुधराने के नाम पर जो लोन लिया, उसका इस्तेमाल आईपीएल टीम के लिए किया. जिसके चलते किंगफिशर एयरलाइंस पर आर्थिक संकट आया और कंपनी दिवालिया हो गई.

  •  30 अप्रैल, 2009 और 4 मई, 2009 को किंगफिशर एयरलाइंस ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 15.9 करोड़ देने की कोशिश की.
  •  किंगफिशर एयरलाइंस ने लोन के पैसे से 77 चेक अलग-अलग कंपनियों और लोगों को दिए.
  • बैंक ने 77 में से 76 चेक क्लियर कर दिए.
  • जबकि रॉयल चैलेंजर्स स्पोर्स्टस प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया 15.9 करोड़ का चेक बैंक ने कैंसल कर दिया. बैंक ने ये कहते हुए चेक कैंसल किया कि लोन का उपयोग सिर्फ किंगफिशर एयरलाइंस के लिए किया जा सकता है, आईपीएल टीम के लिए नहीं.

प्रत्यर्पण पर आज कोर्ट में सुनवाई 
इस बीच मंगलवार को ब्रिटेन की एक कोर्ट में विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण पर सुनवाई होनी है. क्राउन प्रोसीक्यूशन सर्विस(CPS) वेस्टमिंस्टर कोर्ट में भारत की तरफ से जिरह करेगा. हाल ही में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने लंदन जाकर CPS के वकीलों से मिले थे. सुबह 10.30 बजे इस केस पर सुनवाई होनी है. बता दें कि विजय माल्या पर 17 भारतीय बैंकों से 9 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्ज लेने का आरोप है. कर्ज न लौटाने पर माल्या को भारत सरकार ने भगोड़ा घोषित किया है. माल्या 2016 से ब्रिटेन में हैं

Loading...
कमेंट करें
ronOs
Loading...
loading...