comScore

कोर्ट में पेश होकर गाय ने चुना अपना मालिक, राजस्थान के जोधपुर का मामला


डिजिटल डेस्क, जोधपुर। अदालत में इंसानों को केस के चलते पेश होते हुए कई बार आपने देखा होगा, लेकिन राजस्थान के जोधपुर में एक ऐसा अजीबो-गरीब केस देखने को मिला जहां अदालत के सामने एक गाय को पेश किया गया, ताकि उसके मालिक का फैसला किया जा सके। 

दरअसल, अगस्त 2018 से शिक्षक श्याम सिंह और कांस्टेबल ओमप्रकाश के बीच गाय के मालिकाना हक को लेकर विवाद चल रहा था, जिसे लेकर मंडोर थाने में केस दर्ज किया गया था। थाना अधिकारी ने विवाद निपटाने के लिए गाय को दोनों पक्षों के बीच खड़ा किया और दोनों पक्षों से गाय को आवाज देने के लिए कहा, लेकिन गाय ने दोनों की बातों को अनसुना कर दिया, जिसके कारण मामला सुलझ नहीं सका। 

इसके बाद एक पक्ष ने दावा किया कि गाय दूध देने के बाद अपना दूध खुद पीती है, जिसके लिए गाय को मंडोर गौशाला में रखा गया और सीसीटीवी की निगरानी में ये देखा गया कि गाय दूध देने के बाद अपना ही दूध पीती है कि नहीं? लेकिन ये तरीका भी फेल हो गया। 

जिसके बाद मामले को अदालत में जज के सामने पेश किया गया। जहां गाय को अदालत के बाहर गाड़ी में खड़ा किया गया। मामले के अंजाम तक पहुंचाने के लिए जज को कोर्ट रूम के बाहर आना पड़ा। जज ने गाड़ी में खड़ी गाय के आस-पास दोनों पक्षों को खड़ा किया और एक-एक कर गाय को पकड़ के सहलाने और घुमाने को कहा। इस दौरान जज ने पूरी प्रक्रिया को बड़े ध्यान से देखा और दोनों फरियादियों के बयान दर्ज कराए।

केस से जुड़े वकील रमेश कुमार विश्नोई के मुताबिक गाय का फिजिकल आईडेंटिफिकेशन भी किया गया था। बीते शानिवार को जज ने अपना फैसला सुनाते हुए गाय को कांस्टेबल ओमप्रकाश को गाय का मालिकाना हक सौंपने को कहा, जिसके बाद गाय कांस्टेबल ओमप्रकाश को दे दी गई।

कमेंट करें
YWLn7