comScore

जानिए, आखिर क्यों आमिर की इन फिल्मों को लेकर उठे विवाद

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 14th, 2018 11:43 IST

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट और सुपरस्टार आमिर खान अपना 53वां जन्मदिन मना रहे हैं। फिल्म 'कयामत से कयामत तक' से बॉलीवुड में अपनी पारी शुरू करने वाले आमिर ने हिंदी सिनेमा को 'लगान', 'दिल चाहता है', 'रंग दे बसंती', 'तारे जमीन पर', 'गजनी', '3 इडियट्स', 'पीके', और 'दंगल' जैसी बेहद कामयाब और लाजवाब फिल्में दी हैं।

फिल्मों और अपने किरदारों के लिए आमिर की दीवानगी किसी से छिपी नहीं है। आमिर अपने किरदार की त्वचा में घुसकर अभिनय करने के लिए जाने जाते हैं। 'गजनी' और 'दंगल' जैसी फिल्में उनके इसी जुनून को बयां करती हैं। वो अपने किरदार को भरोसेमंद बनाने के लिए अपने शरीर के साथ एक तरह का खिलवाड़ करते हैं, लेकिन उन्हें इसकी आदत है और वो इसमें हमेशा कामयाब भी रहे हैं।

आमिर की फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कमाई के नए रिकॉर्ड तो बनाती हैं लेकिन वो विवादों में आने भी नहीं बच पाती। आइये नजर डालते हैं आमिर की उन फिल्मों पर जिनसे विवाद जन्में-

                             
 

पीके (2014)
आमिर खान की फिल्म 'पीके' सबसे ज्यादा विवादित रही। इस फिल्‍म में पहले तो आमिर के न्‍यूड पोस्‍टर ने और बाद में फिल्‍म में हिंदू धर्म का मखौल उड़ाने के चलते आमिर सभी के निशानों पर आ गए थे। हिन्दू संगठनों ने फिल्म में मनोरंजन के नाम पर हिंदू समाज के सम्मान और संस्कृति का मजाक उड़ाने का आरोप लगाते हुए फिल्म बैन करने की मांग की थी। बजरंग दल ने फिल्म में हिन्दुओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ के खिलाफ जयपुर में प्रदर्शन किया था और केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा था। हालांकि इन सभी विवादों से फिल्म को कोई नुकसान नहीं पहुंचा और इसने कमाई के नए रिकॉर्ड सेट कर दिए थे।

 

                                             

पीपली लाइव (2010)
आमिर खान की फिल्‍म 'पीपली लाइव' में एक गांव की कहानी के जरिए मीडिया पर तंज कसा गया था। इस लो बजट फिल्‍म को अच्छी खासी सफलता मिली थी। लेकिन इस फिल्म के साथ भी कुछ विवाद जुड़े। फिल्म का एक गाना 'मंहगाई डायन खाय जात है' उस समय काफी पॉपुलर हुआ था। लेकिन इसके सिंगर्स और फिल्म के प्रोड्यूसर आमिर खान के बीच गाने की फीस को लेकर विवाद सामने आया था। आमिर ने इस गाने के लिए गायकों को सिर्फ 1100 रुपये दिए थे, जो कि बहुत कम थे। बाद में मीडिया में खबर आने और विवाद बढ़ता देख आमिर ने उन्हें 6 लाख रुपये दिए थे।

 

                       

3 इडियट्स (2009) 
सुपरहिट फिल्‍म '3 इडियट्स' ने उस वक्त बॉक्स ऑफिस के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे। फिल्‍म तो दर्शकों को पसंद आई थी, मगर ये फिल्म भी विवादों से नहीं बच पाई थी। दरअसल लेखक चेतन भगत का कहना था कि ये फिल्‍म उनके नॉवेल 'फाइव प्वॉइंट समवन' पर आधारित है और इसके लिए उन्‍हें कोई क्रेडिट भी नहीं दिया गया। इस विवाद पर प्रोड्यूसर विधु विनोद चोपड़ा, डायरेक्टर राजकुमार हीरानी और अभिनेता आमिर खान एक साथ चेतन भगत के विरोध में आ गए थे। इनका कहना था कि फिल्म चेतन भगत के उपन्यास से प्रेरित जरूर हैं लेकिन इसकी कहानी और पटकथा बिल्कुल नए सिरे से लिखी गई थी।

 

                                       

रंग दे बसंती (2006)  
आमिर की फिल्‍म 'रंग दे बंसती' ने टिकट खिड़की पर बंपर कामयाबी पाई थी। एक नई तरह की कहानी और सिनेमाई प्रयोगों के साथ बनाई गई इस फिल्म को दर्शकों ने अपने दिल में जगह दी। लेकिन इसके बावजूद आमिर का विवादों से पीछा नहीं छूटा।  इस फिल्‍म के एक सीन में घोड़ों के इस्तेमाल को लेकर एनीमल वेलफेयर बोर्ड ने आमिर को नोटिस तक भेज दिया था।

 

                                       

जानिए आमिर खान की जिंदगी से जुड़े कुछ खास लम्हों के बारे में –
आमिर खान का जन्म मुंबई में हुआ । उनके पिता का नाम ताहिर हुसैन और उनकी मां का नाम जीनत हुसैन है। आमिर खान के एक भाई भी हैं जिनका नाम फैजल खान है। आमिर खान की बहनों का नाम फरहत खान और निखत खान है। उनके पिता ताहिर हुसैन फिल्‍म निर्माता थे। उनके अंकल नासिर हुसैन निर्माता-‍निर्देशक थे।

पढ़ाई- आमिर खान की शुरूआती पढ़ाई जे.बी. पेटिट स्कूल से हुई थी। इसके बाद 8वीं तक वो सेंट ऐनी हाईस्कूल में पढ़े और 9वीं और 10वीं की पढ़ाई बॉम्बे स्काटिश स्कूल, माहिम से की। उन्होंने 12वीं की पढ़ाई नारसी मूंजी कॉलेज से की।

शादी- आमिर खान की पहली शादी रीना दत्ता से हुई थी जिनसे उनके दो बच्चे हैं। रीना से तलाक के बाद उनकी शादी किरण राव से हुई।

करियर- मुख्य अभिनेता के तौर पर उन्होंने फिल्म 'कयामत से कयामत तक' से शुरूआत की। इसके बाद आमिर ने कई फिल्में की जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर सफलता के नए कीर्तिमान बनाए।

लोकप्रिय फिल्में- 'कयामत से कयामत तक', 'दिल', 'दिल है कि मानता नहीं', 'जो जीता वही सिकंदर', 'अंदाज अपना अपना', 'रंगीला', 'राजा हिंदुस्तानी', 'गुलाम', 'सरफरोश', 'लगान', 'दिल चाहता है', 'रंग दे बसंती', 'फना', 'तारे जमीं पर', 'गजिनी', '3 इडियट्स', 'धूम-3', 'पीके'।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l