comScore

राम नवमी 2018: जानिए इस वर्ष कब मनाया जाएगाा राम जन्मोत्सव

February 05th, 2018 07:24 IST


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चैत्र माह में नवरात्रि की धूम पूरे देश में देखने मिलती है। एक ओर जहां मां शक्ति की आराधना की जाती है वहीं इस अवसर पर रामनवमी भी परंपरागत तरीके से मनाई जाती है। दुर्गा पूजा के साथ ही भगवान राम का प्राकट्योत्सव इस वर्ष मार्च 2018 में 25 तारीख को मनाया जाएगा। इस दिन महाअष्टमी व्रत या दुर्गा अष्टमी व्रत है।

जन्म की वर्षगांठ के उपलक्ष्य में चैत्र माह में इस दुर्गा अष्टमी के नवमें दिन यह त्योहार भगवान राम के जन्म की वर्षगांठ के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। वैसे तो इसे पूरे देश में मनाया जाता है, किंतु आयोध्या और पुडुचेरी में भगवान राम की कहानी से घनिष्ठ रूप से संबंधित होने के कारण ये दोनों ही स्थान स्थान उत्सव का प्रमुख केंद्र हैं। 

अनुष्ठानों का केंद्र

रामनवमी पर्व पर चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को प्रतिवर्ष नये विक्रम संवत्सर का प्रारंभ होता है और उसके आठ दिन बाद ही चैत्र शुक्ल पक्ष की नवमी को एक पर्व राम जन्मोत्सव का जिसे रामनवमी के नाम से जाना जाता है रामजन्मभूमि की तीर्थयात्रा हर साल ही श्रद्धालु करते हैं। रामनवमीं के दिन  उत्सव का नजारा बेहद अलौकिक होता है। पुडुचेरी में, कनक भवन मंदिर इस पवित्र दिन के अवसर पर किए जाने वाले अनुष्ठानों का केंद्र होता है। 

रामायण का मंचन

भगवान राम के जन्म को लेकर रामायण में उल्लेख बड़े ही सुंदर अक्षरों में मिलता है। प्रभु श्रीराम का जन्म पुष्य क्षत्र में अयोध्या नरेश राजा दशरथ के घर हुआ था। भगवान श्रीराम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न का प्रेम और भगवान की बाल लीलाओं सहित सीता हरण रावण वध और तिलक तक अनेक स्थानों पर रामायण का मंचन किया जाता है। अंतिम दिन इस उत्सव की भव्यता पूरे भारत वर्ष में चरम पर होती है। 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 42 | 24 April 2019 | 08:00 PM
RCB
v
KXIP
M. Chinnaswamy Stadium, Bengaluru