comScore

हलाला और बहुविवाह के खिलाफ खड़ी होने वाली शबनम पर एसिड अटैक

September 13th, 2018 20:39 IST
हलाला और बहुविवाह के खिलाफ खड़ी होने वाली शबनम पर एसिड अटैक

हाईलाइट

  • शबनम रानी पर गुरुवार को एसिड अटैक हुआ है।
  • यह एसिड अटैक बुलंदशहर में डिप्टी गंज पुलिस चौकी के पास दो बाइक सवारों ने किया।
  • पीड़िता को बुलंदशहर में भर्ती किया गया है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ट्रिपल तलाक, हलाला और बहुविवाह के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने वाली शबनम रानी पर गुरुवार को एसिड अटैक हुआ है। ट्रिपल तलाक पीड़िता शबनम पर यह एसिड अटैक उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सरे बाजार डिप्टी गंज पुलिस चौकी के पास दो बाइक सवारों ने किया। घटना के बाद पीड़िता को बुलंदशहर में भर्ती किया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि उसके देवर ने ही दोस्तों के साथ मिलकर हमला किया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। शबनम को कट्टरपंथियों ने भी धमकी दे रखी थी।

बता दें कि शबनम ने ट्रिपल तलाक, हलाला और बहुविवाह के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। साथ ही शबनम ने इसी साल अगस्त महीने में ही अपने पति के खिलाफ भी जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था।

ये है पूरा मामला...
पीड़ित शबनम रानी दिल्ली के ओखला की रहने वाली हैं। रानी का निकाह आठ साल पहले अगौता के जौलीगढ़ में मुजम्मिल से हुआ था। शबनम के तीन बच्चे भी हैं। कुछ समय पहले पति ने उन्हें तलाक-ए-बिद्दत (एक बार में तीन तलाक) दे दिया था। इस दौरान शबनम ने आरोप लगाया था कि उसका पति उस पर देवर के साथ हलाला करने के लिए दबाव बना रहा था। मगर शबनम ने हलाला मंजूर नहीं किया। इसके बाद उस पर अत्याचार बढ़ गए। इन सबसे परेशान होकर शबनम ने हलाला और बहु विवाह को लेकर सुप्रीम कोर्ट में रिट दायर की थी।

क्या है निकाह हलाला?
मुस्लिमों में हलाला या निकाह हलाला एक रस्म है। शरियत के मुताबिक, कोई तलाकशुदा महिला अपने पहले पति से तब तक दोबारा निकाह नहीं कर सकती जब तक कि वह किसी अन्य पुरुष से निकाह करके तलाक न ले ले। किसी अन्य पुरुष से निकाह कर उसके साथ तलाक लेने और फिर अपने पहले पति से निकाह करना ही हलाला प्रक्रिया कहलाता है। इस प्रथा के खिलाफ आज लगभग सभी मुस्लिम महिलाओं ने अपनी आवाज बुलंद की है।

कमेंट करें
ObHdi
कमेंट पढ़े
Rajesh chauhan September 18th, 2018 15:10 IST

wo bhi kisi ki maa bahan beti he bhai kuch sansodhan karo iess jindgi me kuch nahi rakaha he bhai sabhi ki iejjat karo aor jindgi jiyo

Rajesh chauhan September 18th, 2018 15:08 IST

halala ko band karo yaar leadis ki iejjat karo wo bhi kisi ki maaa kisi ki bahan he yaar allaha ke name pe ye karna band karo