comScore
Dainik Bhaskar Hindi

मनमानी से बाज आएं सीबीएसई स्कूल, कलेक्टर ने चेताया

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:11 IST

1.9k
0
0
मनमानी से बाज आएं सीबीएसई स्कूल, कलेक्टर ने चेताया

दैनिक भास्कर न्यूज डेस्क, सतना। सीबीएसई पैटर्न पर संचालित निजी स्कूलों के मैनेजमेंट को दो टूक कह दिया गया है कि वे यह न समझें कि उन पर किसी का नियंत्रण नहीं है। प्रशासन का उन पर पूर्ण नियंत्रण है और शिकायतें मिलने, कायदों का पालन न करने पर मुकदमा भी दर्ज कराया जा सकता है।

कलेक्टर नरेश पाल ने कलेक्ट्रेट में सीबीएसई पैटर्न पर संचालित शहर के स्कूलों के प्रबंधन को तलब कर मनमानी फीस वसूली, निजी पब्लिशर्स की किताबों के इस्तेमाल और आरटीई समेत अन्य कई मसलों पर उनकी क्लास ली। क्राइस्ट ज्योति स्कूल और सेंट माइकल के प्रबंधन खास तौर पर अपने यहां के पुराने छात्रों से ही नई कक्षा में प्रवेश के लिए मोटी एडमीशन फीस वसूलने को लेकर फोकस पर रहे। कलेक्टर ने स्कूल के दसवीं के छात्रों से 11 वीं कक्षा में प्रवेश के लिए एडमीशन फीस वसूलने पर आपत्ति जताई। महर्षि स्कूल के प्रतिनिधियों ने कलेक्टर को बताया कि वे दसवीं पास कर 11वीं में आये किसी भी छात्र से कोई प्रवेश शुल्क नहीं वसूल रहे हैं, क्योंकि ऐसा कोई नियम ही नहीं है।

कलेक्टर ने खास तौर पर हिदायत दी कि वे ये न मानें कि उनका नियंत्रक कोई नहीं है। नियमों का पालन होना चाहिए,छात्रों और अभिभावकों के हितों का ध्यान रखा जाना चाहिए। समय समय पर धारा 144 के तहत जारी किए गए आदेशों का पालन भी अनिवार्य रूप से होना चाहिए अन्यथा धारा 188 के तहत मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा और बोर्ड को रिपोर्ट भेज कर मान्यता रद्द कराने की कार्यवाही भी होगी।कलेक्टर ने इन्हे मंगलवार को फिर तलब किया है। अगली बैठक में केंद्रीय विद्यालय की प्राचार्य को भी बैठक में बुलाया जाएगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download