comScore

सुनील भास्करन बने एयर एशिया इंडिया के नए MD और CEO, 15 नवंबर से संभालेंगे पद

October 10th, 2018 23:30 IST
सुनील भास्करन बने एयर एशिया इंडिया के नए MD और CEO, 15 नवंबर से संभालेंगे पद

हाईलाइट

  • एयर एशिया इंडिया ने बुधवार को सुनील भास्करन को नया MD और CEO नियुक्त किया है।
  • सुनील भास्करन 15 नवंबर से अपना पद ग्रहण करेंगे।
  • सुनील फिलहाल टाटा स्टील में कॉर्पोरेट सेवाओं के उपाध्यक्ष हैं।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। एयर एशिया इंडिया ने बुधवार को टाटा ग्रुप के अनुभवी सुनील भास्करनन को कंपनी का नया चीफ ऑपरेटिंग एक्जीक्यूटिव (CEO) और मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) नियुक्त किया है। वह 15 नवंबर से अपना पद ग्रहण करेंगे। सुनील को अमर अब्रोल की जगह यह पदभार सौंपा गया है। अमर ने जून में MD के अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

सुनील फिलहाल टाटा स्टील में कॉर्पोरेट सेवाओं के उपाध्यक्ष हैं। भास्करन को टाटा ग्रुप के साथ मैन्यूफेक्चरिंग, एक्सपोर्ट और कमर्शियल ऑपेरशन में तीन दशकों से अधिक का अनुभव है। हाल ही में एयर एशिया इंडिया से उनपर लगे आरोपों के चलते कई उच्च अधिकारियों ने किनारा कर लिया था। सुनील की नियुक्ति उस वक्त हुई है जब एयरलाइन के कुछ अधिकारियों पर कथित आरोपों को लेकर जांच चल रही है।

सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (CBI) ने मई में इंटरनेशनल फ्लाइंग लाइसेंस सुरक्षित करने के नियमों का उल्लंघन करने के लिए एयर एशिया लिमिटेड के CEO टोनी फर्नांडीस और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया था। CBI ने इसके साथ ही एयर एशिया को भी लाइसेंस पाने के लिए FDI के नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था। इसके साथ ही एयरलाइन के कुछ कर्मचारियों पर सरकार के कुछ अधिकारियों को रिश्वत देने का आरोप भी लगा था। लाइसेंस पाने के लिए एक एयरलाइन कंपनी को पांच साल का एक्सपीरियंस और 20 विमानों की आवश्यकता होती है, जोकि कथित तौर पर इस एयरलाइन कंपनी के पास नहीं थी। हालांकि एयर एशिया इंडिया ने खुद पर लगे इन आरोपों से इनकार कर दिया था।

एयर एशिया इंडिया टाटा संस लिमिटेड और एयर एशिया इनवेस्टमेंट लिमिटेड का ज्वाइंट वेन्चर है। एयर एशिया इनवेस्टमेंट लिमिटेड का एयरलाइन में 49 प्रतिशत का हिस्सा है, जबकि टाटा ग्रुप के अधिकारियों आर वेंकटरामन और एस रामाडोरई का इस वेन्चर में 51 प्रतिशत की भागीदारी है।
 

Loading...
कमेंट करें
ahKtF
Loading...
loading...