comScore

जेट एयरवेज की एयरहोस्टेस गिरफ्तार, हवाला के रुपए करती थी इधर से उधर

January 11th, 2018 20:10 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के IGI एयरपोर्ट से जेट एयरवेज की एक एयरहोस्टस को हवाला कारोबार चलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में स्पेशल टीम ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। पूछताछ के दौरान आरोपी एयरहोस्टेस देवश्री कुलश्रेष्ठ ने DRI को बताया कि अब तक वह कुल करीब 14 करोड़ रुपये की विदेशी करेंसी को बाहर पहुंचा चुकी है। उसने बताया है कि वह बीते 2 महीने में 7 बार हवाला के जरिए विदेशी करेंसी अलग-अलग देशों में सप्लाई कर चुकी है।

देवश्री ने पति से छिपाई काली करतूत
DRI की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि 25 वर्षीय एयरहोस्टेस देवश्री की 1 साल पहले ही शादी हुई थी और शादी के छह महीने बाद वह हवाला के धंधे से जुड़ी। देवश्री इतनी शातिर थी कि उसने अपने इस काले कारोबार की भनक अपने पति को भी नहीं लगने दी थी। देवश्री का पति प्राइवेट कंपनियों में नौकरी दिलाने वाली जॉब एजेंसी के लिए काम करता है। वहीं देवश्री के ससुर रिटायर्ड डिफेंस अधिकारी हैं और उसके पिता LIC में ऊंचे पद पर अधिकारी हैं। देवश्री की गिरफ्तारी के बाद उसका पति और परिवार वाले सक्ते में हैं। उन्हें इस बात पर भरोसा तक नहीं हो पा रहा है कि एक पल में क्या हो गया।

अमित के साथ मिलकर चला रही थी रैकेट
एयरहोस्‍टेस ने बताया कि वह दिल्‍ली के एक हवाला ऑपरेटर के साथ मिलकर यह रैकट चला रही थी। इस हवाला ऑपरेटर की पहचान दिल्ली निवासी अमित मल्होत्रा के रूप में hui है। करीब 6 महीने पहले एक फ्लाइट में देवश्री की मुलाकात अमित मल्होत्रा से हुई थी। डीआरआई ने हवाला ऑपरेटर अमित के विवेक विहार के घर में छापेमारी की थी। इस छापेमारी के दौरान ही एयरहोस्‍टेस की काली सच्‍चाई पूरी दुनिया के सामने आई।




पोजीशन का भरपूर फायदा उठाया देवश्री ने

25 वर्षीय देवश्री ने बताया कि पहली मुलाकात के बाद अमित ने धीरे-धीरे उसको भी अपने धंधे में शामिल कर लिया। चूंकि देवश्री एयरहोस्टेस थी और उसे एयरपोर्ट पर और फ्लाइट के अंदर होने वाली सुरक्षा जांचों की जानकारी थी, ऐसे में उसे उनसे बचने के उपाय भी पता थे। इस तरह दोनों मिलकर अपने इस काले कारोबार को आगे बढ़ा रहे थे। वास्तव में अमित को एयरहोस्टेस के रूप में अपने इस काले कारोबार को आगे बढ़ाने में बड़ी मदद मिली थी। देवश्री ने अपनी पोजीशन और जानकारी का भरपूर इस्तेमाल किया और छह महीने से लगातार हवाला का पैसा विदेश ले जाती रही।

इस तरह गिरफ्तार हुई देवश्री
देवश्री को सोमवार को करीब 3.0 बजे इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 4 लाख 80 हजार 200 अमेरिकी डॉलर यानि करीब 3.5 करोड़ रुपये के साथ गिरफ्तार किया गया। DRI की टीम ने देवश्री के हैंडबैग से सारी रकम बरामद की। पूछताछ के दौरान देवश्री ने बताया कि वह करीब 5 लाख अमेरिकी डॉलर की यह राशि हांगकांग ले जा रही थी। देवश्री ने विदेशी करेंसी के बंडलों को एल्यूमीनियम फॉयल में लपेटकर अपने बैग में रख रखा था। दरअसल वह ऐसा इसलिए करती थी, क्योंकि इससे नोटों का बंडल एक्स रे मशीन में डिटेक्ट नहीं हो पाता था।

देवश्री देहरादून की रहने वाली है और 6 साल से जेट एयरवेज में काम कर रही थी। एयरहोस्टेस देवश्री ने बताया कि वह हवाला के जरिए विदेश पहुंचाई गई रकम के लिए हर डॉलर के बदले 1 रुपये का कमीशन लेती थी। उसने बताया कि बीते 2 महीने के भीतर वह करीब 10 लाख अमेरिकी डॉलर हवाला के जरिए विदेश ले जा चुकी है।

कमेंट करें
jIYCM