comScore

अजब-गजब : रसेल वाइपर सांप ने 36 बच्चों को दिया जन्म, सभी सुरक्षित

July 13th, 2018 21:26 IST


डिजिटल डेस्क, मुंबई । महाराष्ट्र के मुंबई में इस सांप ने एक साथ 36 बच्चों को जन्म दिया है। यहां परेल स्थित हाफकिन इंस्टिट्यूट फॉर ट्रेनिंग में रिसर्च के लिए एक रसेल वाइपर सांप लाया गया था। इस दौरान इस रसेल वाइपर ने एक साथ इतने बच्चों को जन्म दिया है। इस रिसर्च इंस्टीट्यूट में सांपों के जहर की दवा बनाए जाने का काम होता है। रिसर्च इंस्टीट्यूट की निदेशक डॉ. निशीगंधा नाइक ने बताया कि जनरली सांप की इस प्रजाति की मादा 20-30 बच्चों को जन्म देती है। यह पहला मामला है जब इस प्रजाति की मादा ने एक साथ 36 बच्चों को जन्म दिया है। फिलहाल रसेल वाइपर सहित उसके सभी बच्चे सुरक्षित और हेल्दी है। सभी बच्चों को जंगल में वापस छोड़ दिया जाएगा। 

डॉ. निशीगंधा नाइक ने बताया कि तुर्भे से हमें एक बेहद दुर्लभ एल्बिनो रसेल वाइपर मिला है। हाफकिन के तकरीबन 100 साल से अधिक के इतिहास में अब तक ऐसा सांप महाराष्ट्र में देखने को नहीं मिला है। 

Related image

कोबरा ने दिए 21 अंडे

मिली जानकारी के मुताबिक रसेल के अलावा पहली बार हाफकिन इंस्टिट्यूट फॉर ट्रेनिंग में एक कोबरा ने 21 अंडे दिए है। जिनमें से कोबरा का बच्चा एक अंडे से भी बाहर आया है। यह भी पहली बार है जब किसी कोबरा के अंडे को लैब में रखकर जन्म दिया गया है। निदेशक डॉ. निशीगंधा नाइक ने बताया कि  सभी उपयोगी और अत्याधुनिक तकनीक उपलब्ध होने से यह संभव हुआ। 


Image result for hatchlings at an institute in Mumbai

हाफकिन इंस्टिट्यूट फॉर ट्रेनिंग

परेल स्थित हाफकिन इंस्टिट्यूट फॉर ट्रेनिंग में ऐंटी वेनम बनाने का काम किया जाता है। यह ऐंटी वेनम बनाने के लिए सांप का वेनम (विष) जरूरी होता है। इंस्टिट्यूट में सांप पर रिसर्च की जाती है। यहां सांप को पकड़कर उसका जहर निकाला जाता है। इस वेनम को घोडे़ में इंजेक्ट किया जाता है। जिसके बाद हमें घोड़े के शरीर में ऐंटी वेनम मिलता है। फिर इस ऐंटी वेनम का जहरीले सांप को काटने पर दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

Related image

कमेंट करें
GCWb0