comScore

अलीगढ़ हत्याकांड: शातिर अपराधी है असलम, कर चुका है अपनी बेटी का रेप

अलीगढ़ हत्याकांड: शातिर अपराधी है असलम, कर चुका है अपनी बेटी का रेप

हाईलाइट

  • अलीगढ़ हत्याकांड का मुख्य आरोपी असलम अपनी ही बेटी के साथ कर चुका है रेप
  • असलम के खिलाफ पहले से दर्ज हैं पांच आपराधिक मामले
  • टप्पल में हुई ढाई साल की मासूम बच्ची की निर्मम हत्या का आरोपी है असलम

डिजिटल डेस्क, अलीगढ़। अलीगढ़ हत्याकांड में उत्तर प्रदेश पुलिस ने चौथे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। हत्याकांड का मुख्य आरोपी असलम शातिर किस्म का अपराधी रहा है। असलम पहले भी कई आपराधिक घटनाओं में संलिप्त रहा है। उसके खिलाफ कुल पांच मुकदमे दर्ज हैं। बच्ची ट्विंकल का शव को असलम ने ही ठिकाने लगाया था। टप्पल थाने में ही उसके खिलाफ अपनी ही बेटी से दुष्कर्म करने और एक बच्चे का अपहरण करने का केस भी दर्ज है। 

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक आरोपी असलम शातिर किस्म का आरोपी है उसका दिल्ली तक कई वारदातों में हाथ रहा है। उसने कई घटनाओं को अंजाम दिया है, जिसके चलते उसके खिलाफ पांच मुकदमे दर्ज हैं। असलम के खिलाफ दिल्ली के गोकुल पुरी थाना क्षेत्र से एक बच्चे के अपहरण का केस दर्ज है, बाद में यह बच्चा असलम के पास ही बरामद किया गया था। इसके अलावा टप्पल थाने में ही उसके खिलाफ घर में घुसकर छेड़छाड़ करने, अपनी ही पुत्री के साथ दुष्कर्म करने और यूपी गुंडा ऐक्ट के तहत तीन मुकदमे भी दर्ज हैं।

मामले की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) का गठन किया गया है। उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार ने बताया कि SP ग्रामीण के नेतृत्व में SIT का गठन किया गया है। एक एक्सपर्ट, फॉरेंसिक टीम और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) की टीम भी जांच टीम का हिस्सा होगी जो फास्ट ट्रैक कोर्ट के बेस पर जांच करेगी। SP देहात मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में CO खैर पंकज श्रीवास्तव के पर्यवेक्षन में 4 विवेचक करेंगे जांच। तीन सप्ताह में SIT अपनी रिपोर्ट देगी। 

ये पूरा मामला
अलीगढ़ के पास टप्पल में 30 मई को एक ढाई साल की बच्ची गायब हुई थी। 2 जून को बच्ची का शव कपड़े में लिपटा घर से 100 मीटर की दूरी पर मिला। बच्ची का शव पूरी तरह से क्षत-विक्षत हालत में था। बच्ची के पिता ने पुलिस को दिए बयान में हत्या का शकर जाहिर किया। पिता ने पुलिस को बताया कि जाहिद ने उधार के पांच हजार रुपये को नहीं दिए, बल्कि पैसे मांगने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी। पुलिस ने जाहिद व उसके पड़ोसी असलम को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। चार जून को हत्या का पर्दाफाश कर दोनों को जेल भेज दिया। पुलिस के अनुसार दोनों ने हत्या करना कुबूल किया। 

कमेंट करें
ktcV2