comScore

जानिए साल 2018 में किस तिथि को है अमावस्या...

January 14th, 2018 08:29 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। हर दिन का अपना अलग महत्व है। पूर्णिमा की रात चांद आकाश में जगमगाता हुआ बेहद खूबसूरत नजर आता है, लेकिन अमावस्या को चांद के दर्शन नही होते। अमास्या की काली रात अनेक बुरी शक्तियां भी जाग्रत होती हैं। ऐसा कहा जाता है तांत्रिकों के लिए ये रात खास होती है जब वे अपनी सिद्धियों से विभिन्न शक्तियों को जाग्रत करते हैं और उनसे कार्य कराते हैं। 

                                   

दूर रहती हैं बुरी शक्तियां

वहीं दूसरी ओर पूर्णिमा के समान ही अमावस्या पर भी पवित्र नदियों में स्नान का महत्व है। प्रत्येक माह की अमावस्या और पूर्णिमा के साथ एक कथा जुड़ी हुई है। अमावस्या के दिन दान व ईश्वर की आराधना अवश्य करना चाहिए। ऐसा करने से ईष्ट जहां प्रसन्न होते हैं वहीं बुरी शक्तियां भी आपसे दूर रहती हैं एवं विशेष ग्रह नक्षत्रों का भी विशेष लाभ प्राप्त होता है।

धर्मशास्त्रों में नही बताया गया उर्पयुक्त

हर अमावस्या और पूर्णिमा का प्रभाव माह के अनुसार भी पड़ता है। ग्रह नक्षत्रों के हिसाब से विभिन्न राशियों के जातकों पर ही इसका प्रभाव देखने मिलता है। यही वजह है कि इस दिन पवित्र नदियों में स्नान और ईश्वर की आराधना की सलाह दी जाती हैं। अमावस्या पर मुख्य रूप से व्यक्ति को मांस मदिरा का सेवन नही करना चाहिए। धर्म शास्त्रों में इसे उर्पयुक्त नही बताया गया है। इस दिन विभिन्न दोषों को नाश करने के लिए पुण्य दान की भी सलाह दी जाती है, किंतु ये भी उस दिन की तिथि को ध्यान में रखकर ही किया जाए तो इसका फल विशेष प्राप्त होता है। जैसे कि शनि अमावस्या पर नीली, काली वस्तुओं का दान। आइए यहां जानते हैं साल 2018 में कब-कब है अमावस्या...


16 जनवरी     माघ अमावस्या
15 फरवरी   फाल्गुन अमावस्या
17 मार्च    चैत्र अमावस्या
15 अप्रैल   वैशाख अमावस्या
15 मई      ज्येष्ठ अमावस्या
13 जून        ज्येष्ठ अमावस्या 
12 जुलाई      आषाढ़ अमावस्या 
10 अगस्त    श्रावण अमावस्या 
9 सितंबर      भाद्रपद अमावस्या 
8 अक्टूबर      अश्विन  अमावस्या 
7 नवंबर        कार्तिक अमावस्या 
6 दिसंबर      मार्गशीर्ष अमावस्या 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 36 | 20 April 2019 | 04:00 PM
RR
v
MI
Sawai Mansingh Stadium, Jaipur
IPL | Match 37 | 20 April 2019 | 08:00 PM
DC
v
KXIP
Feroz Shah Kotla Ground, Delhi