comScore

नोटबंदी से जुड़ी इस तस्वीर पर बीजेपी को चुभे राहुल के बोल, खोली पोल

November 09th, 2017 16:49 IST
नोटबंदी से जुड़ी इस तस्वीर पर बीजेपी को चुभे राहुल के बोल, खोली पोल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। बुधवार यानी 8 नवंबर को 'नोटबंदी' की पहली सालगिरह थी। बीजेपी ने जहां इस दिन 'एंटी ब्लैक मनी डे' मनाया, वहीं कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियों ने इसे 'ब्लैक डे' के रूप में मनाया। आजकल ट्विटर पर बहुत एक्टिव रहने वाले कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी ने बुधवार को भी एक ट्वीट किया और नोटबंदी पर तंज कसा। इस ट्वीट में राहुल ने एक 'रोते हुए बुजुर्ग' की फोटो पोस्ट की थी और इसके ऊपर एक शेर लिखकर बीजेपी की नोटबंदी पर हमला किया था। इस फोटो को शेयर करने के बाद राहुल बीजेपी के निशाने पर आ गए। राहुल ने इस फोटो में जहां इस बुजुर्ग को नोटबंदी से 'पीड़ित' बताया था, वहीं बीजेपी ने इसे 'झूठा' करार दिया है। बीजेपी के तरफ से नेशनल प्रेसिडेंट अमित शाह और प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी को जवाब दिया, वो भी शायराना अंदाज में। 

राहुल ने क्या किया था ट्वीट? 

दरअसल, बुधवार को राहुल गांधी के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से एक फोटो पोस्ट की गई। इस फोटो में एक बुजुर्ग व्यक्ति रोते हुए दिखाई दे रहा था। इस फोटो को पोस्ट करते हुए राहुल ने शेर के जरिए मोदी सरकार के नोटबंदी पर तंज कसा। राहुल ने लिखा 'एक आंसू भी हुकूमत के लिए खतरा है, तुमने देखा नहीं आंखों का समुंदर होना।' राहुल ने जिस बुजुर्ग व्यक्ति की फोटो ट्वीट की थी, उसका नाम नंदलाल बताया जा रहा है और ये फोटो पिछले साल नोटबंदी के टाइम की है। 

राहुल गांधी के इस ट्वीट पर बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह ने भी शायराना अंदाज में ही जवाब दिया। अमित शाह ने राहुल गांधी को टैग करते हुए ट्वीट किया 'ताउम्र गरीबों की झूठी तस्वीरों से गुमराह कर सत्ता हतियाते रहे, झूठे आंसू, झूठी तस्वीरों के पीछे से देश को छलना अब और मुमकीन नहीं, असली चेहरा कांग्रेस का बेनकाब हुआ, अब नए भारत का आगाज हुआ।'

नोटंबदी की सालगिरह पर बुजुर्ग की फोटो पोस्ट करने के बाद राहुल गांधी खुद ही फंस गए। बीजेपी के नेशनल स्पोक्सपर्सन संबित पात्रा ने इस फोटो की पोल खोलते हुए लिखा 'Bail पे बाहर 'भ्रष्ट-लाल' ने किया श्री नंदलाल जी कि झूठी ट्वीट, अब क्या सोनिया जी अपने 'Failed-लाल' के लिए माफ़ी मांगेंगी?' इसके साथ ही संबित पात्रा ने नंदलाल कि पिछले साल दिए गए एक बयान का भी जिक्र किया है। इसमें नंदलाल ने कहा था 'नोटबंदी से कोई दिक्कत नहीं थी। उस दिन किसी ने पैर कुचल दिया था, इसलिए रोया था। नोटबंदी से खुश हूं और सरकार के हर फैसले का समर्थन करता हूं।'

पिछले कुछ महिनों से राहुल गांधी ट्विटर पर काफी एक्टिव हैं, लेकिन शायराना कुछ दिनों पहले से ही हुए हैं। हाल ही में गैस सिलेंडर की बढ़ती कीमतों पर सरकार पर हमला करते हुए राहुल ने शायराना अंदाज में ट्वीट किया था 'महंगी गैस, महंगा राशन बंद करो खोखला भाषण दाम बांधो, काम दो वर्ना खाली करो सिंहासन।' 

इससे पहले जब ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट आई थी, तब भी राहुल ने शेर के जरिए ही मोदी सरकार पर हमला बोला था। उस वक्त राहुल ने दुष्यंत कुमार का एक शेर लिखते हुए ट्वीट किया था 'भूख है तो सब्र कर, रोटी नहीं तो क्या हुआ, आजकल दिल्ली में है जेरे-बहस ये मुद्दा।'

कमेंट करें
hSD1B