comScore

राहुल के ट्वीट पर शाह का पलटवार, बोले- बिना पढ़े दोहरा कर दिखाएं सवाल

December 03rd, 2017 18:37 IST
राहुल के ट्वीट पर शाह का पलटवार, बोले- बिना पढ़े दोहरा कर दिखाएं सवाल

डिजिटल डेस्क, सूरत। गुजरात चुनाव प्रचार को लेकर जारी रैलियों में पार्टियों का एक दूसरे पर कटाक्ष बदस्तूर जारी है। सूरत में रैली करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर एक बार फिर हमला किया। राहुल गांधी की ओर से रोज ट्विटर के जरिये प्रधानमंत्री से एक सवाल पूछने के सिलसिले पर व्यंग्य करते हुए कहा अमित शाह ने कहा कि राहुल अब तक के अपने पूछे गए सभी पांच सवालों को बिना देखे नहीं दोहरा सकते हैं।

शाह ने सूरत के मांडवी में एक चुनावी रैली में कहा कि लोगों को राहुल से पूछना चाहिए कि गुजरात चुनाव में कांग्रेस का चुनावी मुद्दा क्या है क्योंकि अब तक उनकी बातों से कुछ नहीं पता चला है कि वो चाहते क्या हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा जहां मोदी के नेतृत्व में विकास के एजेंडे पर आगे बढ़ रही है और यही इसका मुख्य चुनावी मुद्दा है तो दूसरी तरफ कांग्रेस जातिवाद का जहर फैलाना चाहती है और अलग अलग वर्ग के बीच विषवाद को बढ़ाव देकर अपनी राजनैतिक रोटी सेंकना चाहती है।

शाह ने राहुल गांधी के गुजरात के ताबड़तोड़ चुनावी दौरों की चर्चा और उनकी शैली की नकल करते हुए कहा, 'राहुल जी सवाल पूछते हैं कि मोदी जी ने साढे तीन साल में क्या किया। रोज एक ट्वीट कर रहे हैं। आज पांचवा ट्वीट भी कर डाला। मैं इन सबका जवाब दे दूंगा अगर वह यह सब ट्वीट एक बार बिना कागज से पढ़े फिर से दोहरा दे तो'। 

अमित शाह ने कहा कि राहुल अपने लोकसभा क्षेत्र अमेठी में एक कलेक्टर कार्यालय नहीं खोल सके, इसलिए उनकों गुजरात में विकास की बात करना शोभा नहीं देता।

'दिल्ली में क्यों नहीं जाते हैं मंदिर' 
बीजेपी अध्यक्ष ने शनिवार को सवाल उठाया कि राहुल गांधी जब दिल्ली में होते हैं तो मंदिर क्यों नहीं जाते। साथ ही शाह ने कांग्रेस के उन आरोपों का भी जवाब दिया, जिसमें कहा गया था कि वह जैन हैं हिंदू नहीं। शाह ने जवाब में कहा कि हम 6 पुश्तों से हिंदू हैं। शाह ने यह भी कहा, 'हमने कभी किसी की भावनाओं को नहीं उठाया। उनके सोमनाथ मंदिर जाने के बाद ही विवाद खड़ा हुआ था। मेरा सिर्फ यह कहना है कि किसी को अपना विश्वास छिपाकर रखना नहीं चाहिए। आखिर क्यों राहुल गांधी दिल्ली के मंदिरों में नहीं जाते?'

उन्होंने कहा कि शाह ने गुजरात विधानसभा चुनावों से जुड़े कई सवालों के जवाब दिए। उन्होंने कहा कि पार्टी का मकसद 182 में से 150 सीटें जीतना है। उन्होंने राहुल के उस बयान को खारिज किया, जिसमें कहा गया था कि बीजेपी शासन में गुजरात में विकास पिछड़ गया है।

कमेंट करें
CI1kp