comScore
Dainik Bhaskar Hindi

गांव की पंचायत ने लगाया नाइटी पहनने पर बैन

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 15th, 2018 22:11 IST

2.6k
0
0

डिजिटल डेस्क, अमरावती । नाइटी शायद हर शादीशुदा महिला पहनती है। खासकर वो जिनकी नई-नई शादी हुई हो, लेकिन अगर नाइटी पहनने पर सरकार बैन लगा दे तो आप इसे अभिव्यक्ति का आजादी का हनन ही कहेंगे। जाहिर सी बात है, भला सरकार को क्या लेना देना कि महिला किस तरह के कपड़े पहन रही है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि भारत देश में ही महिलाओं के नाइटी पहनने पर ऐतराज है और ऐसा करने पर महिलाओं को दो हजार रुपए का जुर्माना भी भरना पड़ेगा। ये फरमान नौ सदस्यों की उस पंचायत की ओर से सुनाया गया है, जिसकी मुखिया खुद एक औरत है। 

मामला आंध्र प्रदेश के टोकालपल्ली गांव का है। इस गांव की पंचायत ने कुछ वक्त पहले दिन के उजाले में (सुबह सात से लेकर शाम सात बजे तक) औरतों के नाइटी पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया है। जैसा कि नाम से जाहिर है कि औरतें नाइटी ज्यादातर मामलों में रात में पहनती रही हैं लेकिन कुछ औरतें अपनी सुविधा और पसंद से नाइटी दिन में भी पहनती हैं। इसी बात पर इस गांव में पंचायत ने आपत्ति जताई और नाइटी पर प्रतिबंध लगा दिया। पंचायत ने माना है कि नाइटी पहनने से औरतों को मुश्किल हो सकती है और इस मुश्किल की वजह पुरुषों का उनकी ओर आकर्षित होना हो सकता है। वैसे नाइटी पर प्रतिबंध लगाने का भारत में ये कोई पहला मामला नहीं है। भारत जैसे पितृसत्तात्मक समाज में औरतों के लिबास पर पहले भी कई बार विवाद हो चुके हैं।

नियम उल्लंघन की सूचना देने वाले को इनाम
पंचायती फरमान के मुताबिक, अगर कोई औरत इस प्रतिबंध को नहीं मान रही है, तो ऐसी औरत के बारे में बताने वाले को एक हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा। इस प्रतिबंध को गांव में काफी गंभीरता से माना जा रहा है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगाइए कि प्रतिबंध न मानने का अब तक एक भी मामला सामने नहीं आया है। हालांकि इस गांव में ऐसे भी पुरुष और औरतें हैं जो इस प्रतिबंध से सहमत नहीं हैं, लेकिन कमाई को जुर्माने में खर्च होने के डर से वो इस प्रतिबंध मानने को मजबूर हैं।

2014 में लग चुका है बैन?
इससे पहले साल 2014 में मुंबई से सटे एक गांव में भी नाइटी पहनने पर प्रतिबंध लगाया गया था। इसके पीछे तब वजह यह बताई गई कि नाइटी पहनना अभद्रता है। तब दिन के उजाले में नाइटी पहनने वाली औरतों पर 500 रुपए का जुर्माना लगाया गया था। भारत जैसे विकासशील देश में नाइटी का इस्तेमाल कई मायनों में अहम है। इसका इस्तेमाल बेहद सुविधाजनक होता है।नाइटी पहनकर काम करने में भी कम दिक्कत होती है। नाइटी की लोकप्रियता की एक अहम वजह ये भी कि एक नाइटी को औरतें 100 रुपये में भी खरीद सकती हैं।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download