comScore
Dainik Bhaskar Hindi

ऐसा होने पर हो जाएं सावधाना, ये जीव देते हैं भूकंप के संकेत

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 13th, 2017 16:50 IST

441
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। क्या जानवरों को भूकंप का एहसास इसक आने से पहले ही हो जाता है। जी हां, वैज्ञानिक भी इसकी पुष्टि करते हैं। जानवरों को भूकंप के आने से पहले ही पता चल जाता है कि धरती पर कंपन होने वाला है और वे अपनी हरकतें बदलने लगते हैं। इनमें खासकर वे शामिल हैं जो पानी के अंदर रहते हैं। इन्हें धरती के अंदर होने वाली हलचल का एहसास सबसे पहले होता है। यदि आप इनकी बदली हुई हरकतों को समझने की क्षमता रखते हैं तो आपको भी पहले ही पता चल जाएगा कि भूकंप आने वाला है। यहां हम आपको ऐसे ही कुछ जीवों के बारे में बताने जा रहे हैं...


मेंढक
भूकंप से पहले मेंढक पानी से निकलकर धरती पर आ जाते हैं। जब एक साथ बड़ी संख्या में मेंढक तालाब से निकलकर धरती की ओर भागें तो समझ जाना चाहिए कि कोई आपदा आने वाली है। इस पर साल 2009 मेें इटली में एक रिसर्च भी की जा चुकी है। 
 

ओरफिश 
यह फिश पानी में बहुत गहराई में पायी जाती है। आमतौर पर इसका दिखना मुश्किल है, लेकिन यदि यह किसी समंदर के किनारे पायी जाए तो समझिए कोई अनहोनी होने वाली है। साल 2011 में जापान में सुनामी से ठीक पहले ओरफिश पानी से बाहर आ गई थीं। इनकी संख्या तकरीबन 20 बतायी जा रही थी। चिली भूकंप से पहले भी ओरफिश को किनारों पर देखा गया था। 
 

 
लाल चींटी 
रात के वक्त चीटियां आमतौर पर बिल में ही रहती हैं। ये अपने आराम के दौरान किसी भी तरह डिस्टर्वेंस पसंद नहीं करतीं। जिसने भी इन्हें परेशान किया उसकी खैर नही, लेकिन यदि रात के वक्त चीटियां अपने बिल से बाहर दिखाई दें। ये कतार में हो और सुरक्षित स्थान की ओर जा रही हों तो सतर्क हो जाना चाहिए। इस पर भी तीन साल तक शोध किया गया है।
 

नजदीक ही है आपदा
बिना किसी वजह के घरेलू बिल्ली और डाॅग घबराए हुए नजर आएं। उनकी हरकतें बदली हुई नजर आएं। अचानक ही वे अपने बेड से निकलकर भागने लगें तो समझिए आपदा नजदीक ही है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर