comScore
Dainik Bhaskar Hindi

मालदीव ने उगला भारत के खिलाफ जहर, चीन को बताया नया बेस्ट फ्रेंड

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 21st, 2017 15:59 IST

663
0
0

डिजीटल डेस्क, नई दिल्ली। मालदीव के एक अखबार ने भारत के खिलाफ जहर उगला है। सरकार समर्थित इस अखबार में भारत के प्रधानमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की गई है। इस अखबार ने पीएम को कट्टर हिन्दूवादी और मुस्लिम विरोधी बताया है। इतना ही नहीं अखबार ने चीन को अपना नया बेस्ट फ्रेंड बताया है।

मालदीव डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) की अगुवाई में विपक्षी पार्टियों ने इस संपादकीय के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विपक्ष का कहना है कि Vaguthu राष्ट्रपति यामीन का मुखपत्र है। इसका संपादकीय छपने से पहले राष्ट्रपति ऑफिस से मंजूरी लेता है। वहीं उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति यामीन के इस कदम के बाद भारत को अलर्ट हो जाना चाहिए।

एमडीपी के नेता और मालदीव के पूर्व मंत्री अहमद नसीम ने एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में बताया कि चीन को खुश करने के मकसद से इस तरह के संपादकीय लिखे जा रहे हैं, जो गलत है। वहीं उन्होंने कहा कि अगर दोनों देश अपनी भलाई चाहते है तो फिर उन्हें मजबूत भारतीय मानकों के साथ चलना होगा।

भारतीय प्रधानमंत्री को लेकर छपे इस आर्टिकल को लेकर वहां के दो पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नाशीद और मौमून अब्दुल गयूम ने भी आलोचना की है। दोनों पूर्व राष्ट्रपति संपादकीय के बाद भारत के पक्ष में खड़े हो गए हैं। उन्होंने कहा कि भारत हमेशा से मालदीव का अच्छा दोस्त रहा है, जबकि संपादकीय में उसे दुश्मन के तौर पर प्रोजेक्ट किया गया है। कोई भी इससे सहमत नहीं होगा। 

नाशीद ने ट्वीट कर लिखा है। Vaguthu में भारत के खिलाफ छपे इस ऑर्टिकल की आलोचना करता हूं। राष्ट्रपति की विदेश नीति भारत के साथ रिश्ते को बिगाड़ रही है। मालदीव हमेशा से भारतीय की सुरक्षा को लेकर संवेदनशील रहा है।

[removed][removed]

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर