comScore

दो कर्मचारियों को हिरासत में लेते ही ‘आपली बस’ की हड़ताल खत्म

January 12th, 2019 19:55 IST
दो कर्मचारियों को हिरासत में लेते ही ‘आपली बस’ की हड़ताल खत्म

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पीएफ विवाद को लेकर ‘आपली बस’ के कर्मचारियों ने शुक्रवार को हड़ताल की, लेकिन डेढ़ घंटे से ज्यादा यह हड़ताल नहीं चल पाई। इस दौरान भारतीय कामगार सेना के अंबादास शेंडे, भाऊराव रेवतकर को कर्मचारियों को हड़ताल के लिए उकसाने के आरोप में हिरासत में लिया गया। इन दोनों को पुलिस ने हिरासत में लेते ही अन्य कर्मचारियों ने अपनी हड़ताल खत्म कर वापस काम पर लौट गए। सुबह 7.30 बजे से 9 बजे तक चली इस हड़ताल में वर्धा रोड पर चलने वाली लगभग 26 फेरियां रद्द करनी पड़ीं। सुबह 9 बजे के बाद आपली बस सुचारू रूप से सड़कों पर दौड़ने लगीं, जिसके बाद दिन भर इसका कोई असर नहीं दिखा। 

नहीं लिया जा सका उचित निर्णय
गौरतलब है कि पीएफ को लेकर मनपा संचालित आपली बस के कर्मचारियों का विवाद नहीं सुलझ रहा है, जिसके बाद भारतीय कामगार सेना ने 11 जनवरी को हड़ताल का आह्वान किया था। हालांकि इस हड़ताल में सिर्फ ट्रैवल्स टाइम ऑपरेटर के कर्मचारी थे। इस ऑपरेटर की 150 बसें शहर में दौड़ती हैं। भारतीय कामगार सेना का आरोप है कि 9 जनवरी को परिवहन विभाग में मै. ट्रैवल्स टाइम की बैठक हुई, लेकिन पीएफ काटने के विषय पर कोई उचित निर्णय नहीं लिया जा सका। इसके अलावा अन्य कंपनियों के मूल वेतन और ट्रैवल्स टाइम कंपनी के मूल वेतन भी में बड़ा अंतर है।

बता दें कि कामगार आयुक्त कार्यालय में पीएफ विषय पर पिछले साल 30 मई और 14 जून को सुनवाई हुई थी। इसमें ट्रैवल्स टाइम को मौखिक आदेश दिए थे कि कर्मचारियों के मूल वेतन 5.5 हजार रुपए व अन्य भत्ता देने के साथ ही उसमें से 12 फीसदी पीएफ काटा जाए और मामले को बंद कर दिया। 
 

कमेंट करें
F8qvw