comScore
Dainik Bhaskar Hindi

चीन शक्तिशाली देश है लेकिन हम भी कम नहीं : सेना प्रमुख

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2018 08:18 IST

1k
0
1
चीन शक्तिशाली देश है लेकिन हम भी कम नहीं : सेना प्रमुख

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने शुक्रवार को कहा है कि चीन एक बेहद शक्तिशाली देश है लेकिन भारत भी कम नहीं है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना चीनी आक्रामकता से निपटने के लिए पूरी तरह सक्षम है। उन्होंने इस दौरान कश्मीर में पाक प्रायोजित आतंक को खदेड़ने के लिए LoC पर उन पाकिस्तानी चौकियों को भी तबाह करने की बात भी कही जो आतंकवादियों को भारत में घुसपैठ करने में मदद करती हैं। DRDO कार्यशाला और CBRN रक्षा प्रौद्योगिकियों की प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर आर्मी चीफ ने यह बातें कही। साथ ही उन्होंने कि केमिकल, बायोलॉजिकल, रेडियोलॉजिकल और न्यूक्लियर (CBRN) वैपन से निपटने के लिए तैयारियों पर भी जोर दिया।

भारत कमजोर नहीं
आर्मी चीफ ने कहा कि भारतीय सेना अपनी पश्चिमी सीमा के साथ-साथ उत्तरी सीमा पर भी बराबर ध्यान बनाए हुए हैं। किसी भी तरह की हलचल हुई तो हम तैयार हैं। उन्होंने क्षेत्र में अपना प्रभाव बढ़ाने के चीन के आक्रामक प्रयासों पर भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि भारत अपने पड़ोसियों को चीन के करीब नहीं जाने दे सकता। रावत ने इस दौरान चीन की ओर से मिल रही चुनौतियों से निपटने के लिए भारतीय सेना की रणनीति पर भी चर्चा की।

LoC पर पाक चौकियां बनेंगी निशाना
बिपिन रावत ने कहा कि तमाम कोशिशों के बावजूद जम्मू और कश्मीर में आतंकवादियों की संख्या और आतंकवाद की घटनाएं नहीं घटी हैं। इसका एक बड़ा कारण पाक से आतंकियों की हो रही घुसपैठ है। उन्होंने कहा, 'हम जितने आतंकी मार रहे हैं उतने ही पाकिस्तान फिर भेज देता है। इसलिए हम पाकिस्तानी सेना की उन पोस्ट्स को निशाना बना रहें हैं जो आतंकवादियों को घुसपैठ में मदद कर रही हैं।'

CBRN से निपटने की जरुरत
आर्मी चीफ ने इस दौरान केमिकल, बायोलॉजिकल रेडियोलॉजिकल और न्यूकलियर (CBRN) वैपन से निपटने के लिए भी तैयारियों पर जोर दिया। उन्होंने कहा CBRN हथियार अब हकीकत बनते जा रहे हैं। ऐसे में DRDO को इस तरह के वैपन से निपटने के लिए तकनीकी विकास पर जोर देना होगा, जो इन CBRN के खतरों से हमें बचाएगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर