comScore

अन्ना हजारे ने बताया अरविंद केजरीवाल को भ्रष्ट, आंदोलन से किया दूर

February 27th, 2018 20:59 IST
अन्ना हजारे ने बताया अरविंद केजरीवाल को भ्रष्ट, आंदोलन से किया दूर

डिजिटल डेस्क, सीतापुर। समाजसेवी अन्ना हजारे, लोकपाल और लोकायुक्त के लिए एक बार फिर आंदोलन करने जा रहे है। 23 मार्च से इस आंदोलन की शुरुआत होगी। पिछली बार हुए आंदोलन में हीरो बनकर उभरे अरविंद केजरीवाल इस बार आंदोलन का हिस्सा नहीं होंगे। अन्ना हजारे ने अरविंद केजरीवाल को भ्रष्ट बताया है। उन्होंने दो टूक कहा कि लोकपाल, लोकायुक्त के लिए किए जा रहे अनशन में दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को वह नहीं बुलाएंगे।

अन्ना ने कहा, 'ऐसे लोगों को मेरे पास आने की कोई जरूरत नहीं। मंगलवार को उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अन्ना हजारे ने ये बात कही। अन्ना हजारे ने कहा, दिल्ली में वो दो बार अनशन पर बैठे, दोनों बार सरकारें चली गई। उन्होंने दावा किया कि इस बार भी यहीं होना है। वहीं कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अन्ना हजारे ने कहा कि कांग्रेस ने लोकपाल कानून न बनाकर धोखा किया है। उन्होंने कहा पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को वह ईमानदार समझते थे लेकिन लोकपाल कानून न बनाकर मनमोहन सिंह ने देश के साथ धोखा किया है।


अन्ना हजारे ने सिर्फ कांग्रेस को ही नहीं बल्कि केंद्र सरकार को भी घेरा। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर भी तंज कसते हुए कहा, 'मुझे उम्मीद थी कि अच्छे दिन आ जाएंगे लेकिन इन्होंने तो भ्रष्टाचार और बढ़ा दिया। धारा 44 पास कराकर अफसरों के भ्रष्टाचार करने के लिए रास्ता खोल दिया, वह भी चोरी-चोरी।'

23 मार्च से शुरू हो रहे आंदोलन के लिए अन्ना हजारे ने सभी को एकजुट होनो को कहा। उन्होंने कहा किसान संगठनों को संगठित होना पड़ेगा, समाजसेवी संस्थाओं को भी एकजुट होना पड़ेगा। उन्होंने कृषि मूल्य आयोग बनाकर उसे संवैधानिक दर्जा देने की मांग की और कहा कि सरकारें फसलों का मूल्य ठीक से नहीं तय करतीं। इसी कारण 22 साल में 12 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

कमेंट करें
uqct3