comScore
Dainik Bhaskar Hindi

छाया ग्रह के दुष्प्रभाव दूर करेंगे ये 6 आसान उपाय

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 16th, 2018 20:50 IST

7.8k
0
1

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शनि, राहु और केतु यदि किसी के पीछे लग जाएं तो उसे जीवन में अनेक कष्टों का सामना करना पड़ता है। प्रत्येक ग्रह अपने स्वभाव एवं प्रकृति के अनुसार प्रभाव डालता है। उनका असर मानव जीवन पर भी देखने मिलता है। कभी ये अच्छा प्रभाव डालते हैं तो कभी इनके कुप्रभाव से मनुष्य इस कदर पीड़ित हो जाता है कि उसका जीवन कष्टों से भर जाता है। किंतु यदि शनि की पूजा विधिण्विधान से की जाए तो राहुण्केतु के बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है। यही नही अनेक दुष्ट ग्रहों के दुष्प्रभाव से भी राहत मिलती है। 


लक्षणों को शीघ्र ही पहचाने
राहु-केतु के कारण मनुष्य को अनेक परेशानियां उठाना पड़ती हैं, किंतु ज्योतिष शास्त्र में इन्हें छाया ग्रह माना गया है। इनका कोई अस्तित्व नही है। राहु को पापा का राजा माना गया है। यदि आपको ये ज्ञात हो गया है कि कुंडली में राहु का प्रभाव है तो आप उसके लक्षणों को पहचानकरए किसी विशेषज्ञ की सलाह लेकर उसका निदान कर सकते हैं। ये उपाय आपके जीवन में आने वाली अनेक परेशानियों को दूर करेंगे। राहु के प्रभाव से सड़क दुर्घटना का भी भय रहता है। ऐसे में इसका निदान शीघ्र ही कर लेना उत्तम माना गया है। 


करें ये बहुत ही आसान उपाय
1. 108 बार बीज मंत्र का जाप कर कुंडली में इस ग्रह को शांत किया जा सकता है। 
2. घर में राहु यंत्र रखकर इसके दुष्प्रभाव को कम किया जा सकता है। 
3. नीले कपड़े में तिल बांधकर बजरंगबली को अर्पित करें। ऐसा करने से यदि शनि दोष भी है तो भी आपको राहत मिलेगी। 
4. पवनपुत्र हनुमान को बूंदी के लड्डू का भोग लगाएं। 
5. बहते हुए शुद्ध जल या नदी में हरी घास, जौ, तिल, नारियल, कच्चा दूध आदि प्रवाहित किया जा सकता है। 
6. यदि आप शनि या फिर हनुमान भक्त हैं तो सामान्य रूप से ये ग्रह आपको प्रभावित नही कर सकते। 
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download