comScore

आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, थाना प्रभारी सहित 4 गंभीर

आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, थाना प्रभारी सहित 4 गंभीर

डिजिटल डेस्क, सिवनी। नरसिंहपुर जिले से यहां एक आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम पर आरोपी के परिवारजनों ने हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया । गंभीर रूप से घायल चारों पुलिस कर्मियों को अलाज हेतु जबलपुर मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है । घटना के संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया है कि जिले के धूमा थाना क्षेत्र में आर्म्स एक्ट के आरोपी को पकड़ने मुंगवानी थाना प्रभारी शिवमंगल सिंह राठौर के नेतृत्व में एक टीम धूमा थाना क्षेत्र के ग्राम सारसवाड़ी आई  थी । पुलिस दल जैसे ही आरोपी आर्म्स एक्ट के एक वारंटी, आरोपी शिव कुमार ठाकुर को गिरफ्तार करने उसके घर पहुंचा तो उसके परिवारवालों ने  ग्रामीणों के साथ मिलकर हमला बोल दिया । लाठियों से किए गए इस हमले मेें 4 पुलिस कर्मी घायल हो गये। गंभीर घायल थाना प्रभारी शिवमंगल सिंह राठौर व एएसआई नोखेलाल यादव को प्राथमिक उपचार के बाद जबलपुर मेडिकल

कॉलेज रेफर किया गया है।

हादसे में मुंगवानी थाना प्रभारी और एसआई गंभीर रूप से घायल हो गए जबकि आरक्षक और कोटवार को सामान्य रूप से घायल हुए हैं। इस मामले में धूमा पुलिस ने आरोपी के भाई और माता पिता को गिरफ्तार किया है जबकि  बाकी फरार हो गए। गुरुवार की  रात इस घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के थानों का पुलिस बल मौके पर पहुंचा और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।

ये है मामला

धूमा थाना के सासरवाड़ी गांव का रहने वाला शिवकुमार पिता गुलाब सिंह ठाकुर के खिलाफ मुंगवानी थाना में आम्र्स एक्ट का प्रकरण कायम है। वह कोर्ट की पेशियों में हाजिर नहीं हो रहा था। इस पर कोर्ट ने स्थाई वारंट जारी कर दिया। मुंगवानी थाना प्रभारी शिवमंगल सिंह राठौर, एएसआई नोखेलाल यादव, आरक्षक राकेश और कोटवार कीरत मेहरा उसे पकडऩे  गांव गए थे। रात में ही जब  शिवकुमार को पुलिस ला रही थी तभी उसके परिजनों ने विवाद शुरु कर दिया और मारपीट करने लगे। लाठियों से पुलिस पर हमला कर दिया। किसी तरह बचकर पुलिसकर्मी इधर उधर भागे और डायल 100 को सूचना दी।

खून से लथपथ मिले

जानकारी के अनुसार आरोपी और उसके परिजनों के अलावा गांव के कुछ  लोगों ने इतनी मारपीट की कि थाना प्रभारी और एएसआई के सिर फट गए थे। वे पूरी तरह से खून से लथपथ हो गए। रात में धूमा, छपारा,  लखनादौन और आसपास के थानों के बल के साथ अधिकारी गांव पहुंचे। घायलों को सिविल अस्पताल में लाने के बाद राठौर और यादव को जबलपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया।बताया गया कि रात में ही  पूरा गांव छावनी में तब्दील हो गया था।

इन पर मामला दर्ज

मुख्य आरोपी शिवकुमार फरार हो गया। जबकि उसका भाई जित्तू ठाकुर, पिता गुलाब ठाकुर और मां कल्लूबाई को  गिरफ्तार किया गया है। इसके  अलावा अन्य लोगों पर भी धारा 307,332,353,294,506,186,14,148 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। 
 

कमेंट करें
RsrlH