comScore
Dainik Bhaskar Hindi

Auto Expo 2018 : TATA ने पेश की स्पोर्ट कार RACEMO, नहीं पीती पेट्रोल-डीजल

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 12th, 2018 10:18 IST

8.9k
0
0
Auto Expo 2018 : TATA ने पेश की स्पोर्ट कार RACEMO, नहीं पीती पेट्रोल-डीजल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। Auto Expo 2018 खत्म होने को है, लेकिन कंपनियों के वाहन शोकेस और लॉन्च होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। टाटा मोटर्स ने जहां अपने सभी तरह के वाहनों का पूरा लाइन-अप पेश किया है वहीं कंपनी ने एक शानदार कार भी शोकेस की जिसे 2017 में हुए जेनेवा मोटर शो में पहली बार पेश किया गया था। टाटा रेसिमो नाम की इस शानदार लुक वाली कार को टाटा ने पूरी तरह इलैक्ट्रिक बनाया है, कहने का मतलब ये कि ये कार बूंद भर भी डीजल पेट्रोल नहीं पीती। यह कार 4 मीटर से कम लंबाई की है जिसमें कंपनी ने 1.2-लीटर का टर्बोचार्ज्ड रवोट्रॉन एल्युमीनियम इंजन लगाया गया है। यह इंजन 6-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स से लैस है और 186 bhp पावर के साथ 210 Nm पीक टॉर्क जनरेट करने की क्षमता रखता है।

 

Related image

 

 

टाटा मोटर्स का कहना है कि रेसिमो 0-100 किमी/घंटा की रफ्तार पकड़ने में सिर्फ 6 सेकंड का समय लेती है। टाटा ने इस कार को मोफ्लैक्स मल्टी-मटेरियल सैंडविच स्ट्रक्चर वाले विशेष बॉडी टाइप में बनाया है। पूरी तरह इलैक्ट्रिक इस मॉडल का नाम ‘रेसिमो प्लसमाइनस’ है जिसकी स्टाइल इसी कार के पेट्रोल वेरिएंट से ली गई है। ऑटो एक्सपो 2018 में शोकेस हुई इस कार की बैटरी 200 bhp पावर जनरेट करने की क्षमता रखती है और इस कार को लीथियम इऑन बैटरी पैक लगाया गया है। खबरें हैं कि  इलैक्ट्रिक रेसिमो को एक बार फुल चार्ज करने पर 350 किमी तक चलाया जा सकता है।
 

Image result for tata RaceMo at auto expo 2018

 

टाटा रेसिमो ने इस कार के चेसिस के बीच में लीथियम इमॉन बैटरी पैक वाली मोटर को फिट किया है। सूत्रों का कहना है कि टाटा रेसिमो में लगी बैटरी को चार्ज करने में काफी कम समय लगता है। बता दें कि टाटा मोटर्स की इस शानदार कार को कंपनी के इटली स्थित तुर्की डिजाइन स्टूडियो में डिजाइन किया गया है। रेसिमो इलैक्ट्रिक में टाटा की फिलहाल बिक रही डिजाइन स्टैंडर्ड वाली कारों से भी कुछ पुर्ज़े लगाए गए हैं जिनमें ह्यूमैनिटी लाइन और डायमंड डीएलओ शामिल हैं। कंपनी ने इस कार को 165 mm का ग्राउंड क्लियरेंस दिया है जो भारतीय सड़कों के हिसाब से बहुत महत्वपूर्ण पहलू है। 

 

Related image

 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर