comScore
Election 2019

अजीम प्रेमजी ने परोपकार के लिए दान किए 52,750 करोड़ रुपए

March 14th, 2019 16:06 IST

हाईलाइट

  • परोपकार और धर्मार्थ गतिविधियों के लिए दान की गई रकम
  • कुल संपत्ति 15.6 अरब डॉलर, 8 अरब डॉलर दान में दिए
  • प्रेमजी विप्रो के कुल 67 फीसदी शेयर दान कर चुके हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आईटी दिग्गज और विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी ने विप्रो लिमिटेड की 34 प्रतिशत हिस्सेदारी यानी 52,750 करोड़ रुपए (7.5 अरब डॉलर) के शेयर परोपकार कार्य के लिए दान दिए हैं। बयान के अनुसार, इस दान के बाद अजीम प्रेमजी द्वारा परोपकार और धर्मार्थ गतिविधियों के लिए दान की गई रकम बढ़कर 1.45 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। इस प्रकार प्रेमजी अब तक विप्रो के कुल 67 फीसदी शेयर दान कर चुके हैं। 

बेंगलुरू के 73 वर्षीय अरबपति उद्योगपति की कुल संपत्ति 15.6 अरब डॉलर है। अब तक उन्होंने 8 अरब डॉलर दान में दिए हैं, जो दुनिया में पांचवीं सबसे बड़ी दान की रकम है। दिसंबर 2018 को आईटी कंपनी विप्रो लिमिटेड में प्रोमोटर्स की हिस्सेदारी 74.3 फीसदी थी।

नॉर्थईस्ट क्षेत्र में काम 
अजीम प्रेमजी फाउंडेशन कई राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करती है। फिलहाल यह फाउंडेशन पुडुचेरी, तेलंगाना, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, राजस्थान और नॉर्थईस्ट क्षेत्र में काम कर रही है। फाउंडेशन ने बेंगलुरु में अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी की स्थापना भी की है, जिसका उद्देश्य शिक्षा और उससे जुड़े एरियाज के लिए पेशेवर तैयार करना है। 

फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान
बता दें कि अजीम प्रेमजी को पिछले साल नवंबर में फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान प्रदान किया गया था। भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जिग्लर ने प्रेमजी को फ्रांस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'शेवलियर दे ला लीजन द ऑनर (नाइट ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर)' से सम्मानित किया था। फ्रांस के साथ विप्रो का संबंध पिछले 15 साल से अधिक समय से है और फ्रांस की कई कंपनियां व संगठन इसके ग्राहक हैं। फ्रांस में कंपनी के करीब 65 फीसदी कर्मचारी स्थानीय नागरिक हैं।

Loading...
कमेंट करें
qWDcm
Loading...