comScore

पेंच प्रकल्प एरिया से बैन हटा, बनेंगे 13000 कुएं

February 12th, 2019 16:41 IST
पेंच प्रकल्प एरिया से बैन हटा, बनेंगे 13000 कुएं

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि पेंच प्रकल्प एरिया में कुओं के निर्माण पर लगी पाबंदी सरकार ने हटा ली है। नागपुर सहित पूर्वी विदर्भ में 13 हजार कुओं का निर्माण कर किसानों के लिए जलापूर्ति की व्यवस्था की जाएगी। पहले चरण में 10 हजार व दूसरे चरण में 3 हजार कुओं का निर्माण होगा। पानी से वंचित 2 लाख किसानों को इसका लाभ मिलेगा। 

सरकार ने इसलिए लिया निर्णय
उन्होंने जिलाधीश कार्यालय में चर्चा के दौरान कहा कि मध्यप्रदेश के चौरई बांध से पेंच प्रकल्प में पानी का बड़ा संकट खड़ा हो गया है। 2 लाख किसान इससे प्रभावित हुए हैं। किसानों को पानी की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है। पेंच प्रकल्प एरिया में कुआं खुदाई पर पाबंदी होने से किसान कुएं खोदकर भी समस्या से निजात नहीं पा सकते थे। पीने के साथ ही कृषि के लिए भी पानी कम पड़ रहा है। राज्य सरकार ने यह पाबंदी हटाते हुए नागपुर जिले में 4500 सहित पूर्वी विदर्भ में 13 हजार कुओं के निर्माण का निर्णय लिया है। इन कुओं का निर्माण नागपुर के अलावा वर्धा, भंडारा, गोंदिया, गड़चिरोली व चंद्रपुर में होगा। इससे किसानों की पानी की समस्या दूर हो जाएगी। प्रति कुआं ढाई लाख का अनुदान भी दिया जाएगा। 5 एकड़ खेती वालों को प्राथमिकता दी जाएगी। इस अवसर पर विधायक सुधाकर कोहले, विधायक मल्लिकार्जुन रेड्डी, निवासी उपजिलाधीश रवींद्र खजांजी उपस्थित थे।

1200 करोड़ का प्रोजेक्ट
उन्होंने कहा कि 1200 करोड़ का लिफ्ट एरिगेशन प्रोजेक्ट है। नाग नदी व वेकोलि से बहने वाले पानी पर प्रक्रिया कर इसे कैनल में डाला जाएगा। इस पानी का इस्तेमाल किसान कर सकेंगे। 

कमलनाथ से मिलूंगा 
उन्होंने कहा कि चौरई बांध में पानी की कमी नहीं है। हमें 5 एमएलडी पानी चाहिए। इसके पहले भी मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की, लेकिन बात अब तक नहीं बन सकी। 10 दिन बाद फिर मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलकर 5 एमएलडी पानी की मांग की जाएगी।

कमेंट करें
yVYPW