comScore

बिहार में बाढ़ के बीच सुपर 30 देखकर फंसे सुशील मोदी, RJD हुई हमलावर

बिहार में बाढ़ के बीच सुपर 30 देखकर फंसे सुशील मोदी, RJD हुई हमलावर

हाईलाइट

  • ऋतिक की सुपर 30 देखकर फंसे सुशील मोदी !
  • आरजेडी ने सुशील कुमार को बताया बेशर्म डिप्टी सीएम
  • बिहार बाढ़ से 83 लोगों की मौत, 47 लाख लोग बेघर हो गए हैं

डिजिटल डेस्क, पटना। लगातार जारी भीषण बारिश से आधा बिहार बाढ़ की चपेट में है। नदियां उफान मारते हुए खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। कुछ लोग घरों और गांव में फंसे हुए है तो कोई पलायन करने को मजबूर हैं। इसमें अब तक 83 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और 47 लाख से ज्यादा लोग बेघर हो चुके हैं। वहीं बिहार की सरकार में उपमुख्यमंत्री की कमान संभाल रहे सुशील कुमार मोदी बाढ़ प्रभावित इलाकों जायजा लेने और मदद पहुंचाने की बजाए फिल्म सुपर-30 देखने में मशगूल हैं। 

दरअसल बिहार में फिल्म सुपर-30 को टैक्स फ्री किए जाने के बाद फिल्म अभिनेता ऋतिक रोशन ने डिप्टी सीएम सुशील मोदी से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद सोशल मीडिया पर दो तस्वीरें वारयल की जा रही है। पहली तस्वीर में सुशील मोदी ऋतिक रोशन के साथ मुलाकात कर रहे हैं। इस तस्वीर को मोदी ने 16 जुलाई को अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किया है। कैप्शन में उन्होंने लिखा, ''होटल मौर्या, पटना में सुपर-30 फिल्म के अभिनेता श्री ऋत्विक रोशन व सुपर-30 के संस्थापक श्री आनंद कुमार से मिलते हुए'' वहीं दूसरी तस्वीर में नजर आ रहा है कैसे बिहार में बाढ़ से पीड़ित लोग पानी में फंसे हुए हैं।

वहीं दूसरी ओर बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने इस मुलाकात और सुशील मोदी के सुपर-30 देखे जाने के मामले पर सवालिया निशान लगाते हुए सरकार की आलोचना की। 16 जुलाई को ऋतिक के सुशील मोदी से मुलाकात की फोटो पोस्ट करने के बाद बुधवार को आरजेडी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट कर सरकार पर सवाल उठाए गए। आरजेडी के ट्विटर हैंडल पर पार्टी ने लिखा, 'निशब्द! और बिहार का पूरा मंत्रिमंडल बुधवार रात सुशील मोदी की अगुआई में मल्टीप्लेक्स में फ्री डिनर के साथ फिल्म देख रहा था। ऊपर से मंत्री कह रहे थे- बाढ़ आई तो क्या खाना-पीना, मूवी देखना छोड़ दे। बेशर्म कहीं के!' 

वहीं ऋतिक रोशन ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से पर तस्वीर साझा करते हुए लिखा, 'सुशील जी, आपसे मिलकर मुझे बहुत प्रेरणा मिली। इस मुलाकात के लिए धन्यवाद'

बता दें कि बारिश और बाढ़ के चलते बिहार के 12 जिलों में खतरनाक हालात बने हुए हैं। राज्य में बाढ़ से 47 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। इन जिलों में शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, अररिया, किशनगंज, सुपौल, दरभंगा, पूर्णिया, मुजफ्फरपुर सहरसा और कटिहार शामिल है। भारी बारिश की वजह से बिहार की तमाम नदियों में बाढ़ का पानी 600 और गांवों में फैल चुका है। 
 

कमेंट करें
BPG05