comScore
Dainik Bhaskar Hindi

पटना शेल्‍टर होम में दो युवतियों की संदिग्‍ध मौत, पुलिस रही अंजान, अब 5 गिरफ्तार

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 12th, 2018 21:06 IST

4.9k
1
0
पटना शेल्‍टर होम में दो युवतियों की संदिग्‍ध मौत, पुलिस रही अंजान, अब 5 गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 बच्चियों से हुए रेप का मामला अभी थमा भी नहीं था कि अब राजधानी पटना से एक नया मामला सामने आ गया है। यहां आसरा शेल्टर होम में दो युवतियों की संदिग्ध हालत में मौत हो गई है। इस मामले में बड़ी बात यह रही है कि स्थानीय थाना पुलिस इस पूरे कांड से बिल्कुल अंजान बनी रही। शेल्टर होम संचालक ने इसकी जानकारी पुलिस को देना उचित ही नहीं समझा और एक शव का अंतिम संस्कार तक कर दिया गया।

फिलहाल पुलिस ने दूसरे शव को अपने कब्जे में ले लिया है। पुलिस के अनुसार मेडिकल बोर्ड का गठन कर अब इस दूसरे शव का दोबारा पोस्‍टमॉर्टम कराया जाएगा। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच करते हुए शेल्‍टर होम संचालक तथा उसके सचिव व तीन अन्‍य को हिरासत में ले लिया है। पुलिस इन सभी से पूछताछ कर रही है।

आसरा शेल्‍टर होम राजधानी पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र में स्थित है। यहां 10 अगस्त की रात में 9.26 और 9.35 बजे दो युवतियों पूनम भारती और बबली की मौत हो गई। प्रबंधन ने इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी। घटना के बाद शेल्टर होम की कर्मचारी बेबी कुमारी सिंह द्वारा दोनों युवतियों को पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ले जाया गया।

इस पूरे मामले में बड़ी बात यह रही कि शेल्टर होम प्रबंधन ने पीरबहोर थाना पुलिस की मौजूदगी में शव का पोस्‍टमॉर्टम शनिवार को ही करवा दिया। इसके बाद एक युवती का दाह संस्कार भी करवा दिया गया। मगर इस पूरे मामले में शेल्‍टर होम के स्थानीय राजीव नगर थाना को घटना की सूचना नहीं दी गई। इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी समाज कल्‍याण विभाग के वरीष्ठ अधिकारी शेल्‍टर होम की सभी महिलाओं के सुरक्षित होने के बयान दे रहे थे।

अस्‍पताल अधीक्षक डॉ. राजीव रंजन ने बताया कि मौत अस्पताल आने से पहले हो चुकी थी। इससे माना जा रहा है कि दोनों की शेल्‍टर होम में मौत के बाद मामले को दबाने के मकसद से उन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया।


कलेक्टर कुमार रवि और एसएसपी मनु महाराज ने मामले को लेकर कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। जिलाधकिारी ने जांच के बाद बताया कि दोनों को कोई खास बीमारी की बात समाने नहीं आई है। पूनम को बुखार था और डायरिया से भी पीड़ित थी। उन्‍होंने कहा कि एक शव का पोस्टमॉर्टम मेडिकल बोर्ड गठित कर कराया जाएगा।

बता दें कि यह वही शेल्‍टर होम है, जहां की चार युवतियों ने ग्रिल काटकर भागने की कोशिश की थी। उसके बाद से ही आसरा शेल्‍टर होम में पुलिस तैनात थी। ऐसे में युवतियों की बीमारी से लेकर मौत तक की खबर स्‍थानीय पुलिस को क्‍यों नहीं मिल सकी, यह बड़ा सवाल है। आसरा होम में मानसिक रूप से विक्षिप्त महिलाओं और बच्चों को रखा जाता है। इसमें 75 महिलाएं और बच्चे थे, जिनमें उपरोक्‍त दो की मौत हो चुकी है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें