comScore

अमित शाह बोले- बीजेपी चाहती है जल्द बने राम मंदिर, कोर्ट के फैसले का है इंतजार

January 12th, 2019 08:05 IST
अमित शाह बोले- बीजेपी चाहती है जल्द बने राम मंदिर, कोर्ट के फैसले का है इंतजार

हाईलाइट

  • बीजेपी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन दिल्ली के रामलीला मैदान में शुरू
  • भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उद्घाटन सत्र को सम्बोधित किया
  • लोकसभा चुनाव के लिए बुलाया गया है राष्ट्रीय अधिवेशन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन दिल्ली के रामलीला मैदान में शुरू हो गया है। शनिवार को पीएम मोदी के वक्तव्य के साथ ही अधिवेशन का समापन किया जाएगा। आगामी चुनाव में कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देने के उद्देश्य से यह अधिवेशन आयोजित किया गया है। यह बीजेपी का अब तक का सबसे बड़ा राष्ट्रीय अधिवेशन है। इसमें देशभर के 12 हजार से ज्यादा प्रमुख कार्यकर्ता शामिल हुए हैं।

रामलीला मैदान पर बीजेपी के इस महासंगम का उद्घाटन शाम 4 बजे हुआ। ध्वजारोहण और राष्ट्रगीत के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने अधिवेशन का उद्घाटन किया। उद्घाटन सत्र को अमित शाह ने सम्बोधित किया।

बता दें कि बीजेपी के इस सबसे बड़े अधिवेशन में हर लोकसभा क्षेत्र के लगभग दस प्रमुख नेता हिस्सा ले रहे हैं। प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र से सांसद, विधायक, परिषद के सदस्य, जिला अध्यक्ष, महामंत्री और क्षेत्र के विस्तारक बैठक में शामिल हुए हैं।

उद्घाटन सत्र में अमित शाह का सम्बोधन :

  • कांग्रेस शासनकाल में हर रक्षा सौदे में दलाली हुई, अब मिलेश मामा पकड़े गए हैं तो वो पसीना-पसीना हो रहे हैं।
  • असम मे सर्बानंद सोनवाल की सरकार बनी और सरकार बनते ही एनआरसी की शुरुआत की गई। NRC देश में घुसपैठियों को चिन्हित करने की व्यवस्था है। अकेले असम मे 40 लाख प्रथम दृष्टया घुसपैठिये चिन्हित किये गये।
  • भाजपा चाहती है जल्द से जल्द उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो और इसमें कोई दुविधा नहीं हैं। हम प्रयास कर रहे है कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस की जल्द से जल्द सुनवाई हो लेकिन कांग्रेस इसमें भी रोड़े अटकाने का काम कर रही है।
  • देश की सीमाओं की सुरक्षा का प्रबंधन कैसा हो, मोदी जी की सरकार में इसका आर्दश मॉडल आज दुनिया देख रही है।
  • आज देश में नक्सलवाद और माओवाद लगभग समाप्त होने को है। 218 % आतंकियों को मारने में वृद्धि का आंकड़ा मोदी सरकार में पार हुआ है।
  • मोदी सरकार ने बीते पांच साल में 6 करोड़ गरीब माताओं को गैस का सिलेंडर देने का काम किया है।
  • साढ़े चार सालों में 9 करोड़ शौचालय बनाकर माताओं और बहनों को शर्म से मुक्त करके सम्मान के साथ जीने का अधिकार भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने दिया है।
  • 2014 तक 60 करोड़ घर ऐसे थे जिनके पास अपना बैंक अकाउंट नहीं था, लेकिन मोदी जी ने एक झटके में ही इन सभी का अकाउंट बैंक में खोल दिया।
  • जवानों को 'वन रैंक, वन पेंशन' देकर नरेंद्र मोदी सरकार ने उन्हें सम्मान देने का काम ने किया है।  हमारी सरकार ने गोली का जवाब गोले से दिया है। मोदी सरकार ने देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने का काम किया है।
  • हमने गरीबों के कल्याण के लिए बहुत सारे काम किये हैं, उसके साथ-साथ हमारे देश की सुरक्षा भी महत्वपूर्ण है। 2014 से पहले देश के जवानों की हत्या कर दी जाती थी, आये दिन बॉर्डर से घुसपैठ होती थी, इस प्रकार की स्थिति में हमने देश संभाला था।
  • 2014 में 6 राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें थीं और 2019 में 16 राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं। 5 साल के अंदर भाजपा का गौरव तेज गति से बढ़ा है।
  • लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 से 74 सीटें भाजपा की होगी।
  • भाजपा की मोदी सरकार ने वर्षों से चली आ रही आरक्षण बिल की मांग को दोनों सदनों में पास कराकर करोड़ों युवाओं के स्वप्न को साकार किया है।
  • GST लागू होने के बाद से हर जीएसटी बैठक में एक के बाद एक वस्तुओं के दाम कम करने और जीएसटी के सरलीकरण के लिए हमेशा काम किया गया है।
  • वित्तमंत्री की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल की बैठक में निर्णय लिया गया कि 40 लाख रुपये तक सालाना टर्नओवर वाले छोटे व्यापारियों के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी नहीं।
  • 1.5 करोड़ तक टर्नऑवर वाले कंपोजिशन प्लान स्वीकार करने वाले व्यापारियों को सिर्फ 1% टैक्स देना होगा। ये करोड़ों छोटे व्यवसायियों और लघु उद्योगों के लिए ये बड़ा फैसला है।
  • ये अधिवेशन भारतीय जनता पार्टी के देशभर में फैले कार्यकर्ताओं के लिए संकल्प करने का अधिवेशन है।
  • जिस भारत की कल्पना विवेकानंद जी ने की थी उस भारत को हम मोदी जी के नेतृत्व में बनाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।
  • अटल जी जनसंघ के समय से ही देश की राजनीति के ध्रुव तारे की तरह चमके थे, भाजपा के संस्थापक अध्यक्ष थे। देश के हर कौने में भाजपा को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया है, ऐसा संघर्ष शायद ही हुआ हो।
  • 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है। दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है। 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है।
  • 2019 का चुनाव भारत के गरीब के लिए बहुत मायने रखता है। 
  • स्टार्टअप को लेकर निकले युवाओं के लिए ये चुनाव मायने रखता है।
  • करोड़ों भारतीय जो दुनिया में भारत का गौरव देखने चाहते हैं उनके लिए ये चुनाव मायने रखता है।
  • एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज हार के डर से एक साथ आ गए हैं, वो जानते हैं कि अकेले नरेंद्र मोदी जी को हराना मुमकिन नहीं है।
कमेंट करें
NFEyk